सदन स्थगित करने पर सरकार पर भड़की कांग्रेस, कहा- हम महंगाई पर चर्चा चाहते थे, होने नहीं दी

कांग्रेस पार्टी ने संसद के दोनों सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने को लेकर गुस्सा जाहिर किया है और कहा कि केंद्र सरकार ने महंगाई के मुद्दे पर चर्चा से बचने के लिए ऐसा किया. दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय में रखी गई प्रेस वार्ता में राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि महंगाई सबसे बड़ा मुद्दा है.

सदन स्थगित करने पर सरकार पर भड़की कांग्रेस, कहा- हम महंगाई पर चर्चा चाहते थे, होने नहीं दी

महंगाई की चर्चा से भाग रही है सरकार, कांग्रेस का आरोप.

नई दिल्ली:

कांग्रेस पार्टी ने संसद के दोनों सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने को लेकर गुस्सा जाहिर किया है और कहा कि केंद्र सरकार ने महंगाई के मुद्दे पर चर्चा से बचने के लिए ऐसा किया. दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय में रखी गई प्रेस वार्ता में राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि महंगाई सबसे बड़ा मुद्दा है. जिसपर हमने संसद में सवाल उठाए. पांच राज्यों में चुनाव के बाद लोगों का शोषण शुरू किया है. हम पेट्रोल, डीज़ल, घरेलू गैस और सीएनजी आदि की महंगाई पर चर्चा चाह रहे थे. लेकिन इस पर बात करने नहीं दी गई. जनता के सामने उनकी कमी ज़ाहिर न हो इसके लिए वे चर्चा टालते रहे और अंत में होने नहीं दी. दो दिन बचा था लेकिन सत्रावसान कर दिया.

श्री अधीर आर चौधरी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि महंगाई पर चर्चा की बात बीजेपी नेताओं की तरफ़ से कही गई थी. लेकिन आज कार्यवाही समाप्त कर दी गई. BAC में ये तय भी हुआ था लेकिन महंगाई पर चर्चा नहीं होने दिया. सरकार अपने कहे से भाग गई. सरकार ने कहा रूस से सस्ते में तेल ख़रीदेंगे, वित्त मंत्री ने भी कहा सस्ता ख़रीदेंगे. सस्ता भी  35$ में. लेकिन फिर भी महंगाई पर चर्चा नहीं कराई. सरकार ने कहा 129% उत्पादकता है सदन का. मतलब हम विपक्ष के तौर पर बहुत सहयोग करते हैं. लेकिन फिर भी सरकार हमारी बात नहीं सुनती. सदन पहले ही रद्द कर दिया.

वहीं कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने इस ब्रीफिंग में कहा कि BAC में सबके लिए समय अलॉट हो चुका था. लेकिन उसे नहीं होने दिया गया. मतलब साफ़ है कि सरकार महंगाई से भाग रही थी. कल अचानक निर्णय ले लिया गया सदन स्थगित करने का. कई बिल भी नहीं लाए गए. अरुण जेटली हाउस में बैठा करते थे. लेकिन अब तो लीडर ऑफ़ हाउस पीयूष गोयल कहां रहते हैं, पता ही नहीं. पीएम के तो दर्शन ही नहीं होते.

VIDEO: कांजुरमार्ग मेट्रो कार शेड विवाद में बॉम्‍बे हाइकोर्ट ने केंद्र और राज्‍य सरकार को लगाई फटकार 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com