आए दिन सरकारें जजों की छवि धूमिल करती रहती हैं, ये दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति : CJI एनवी रमना

इस याचिका में राज्य के पूर्व प्रमुख सचिव और उनकी पत्नी के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति  के मामले में दर्ज एफआईआर को रद्द करने के छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती दी गई है.

आए दिन सरकारें जजों की छवि धूमिल करती रहती हैं, ये दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति : CJI एनवी रमना

सीजेआई एमवी रमना ने सरकारों पर लगाया जजों की छवि धूमिल करने का आरोप (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

देश के मुख्य न्यायाधीश यानी CJI एनवी रमना (CJI NV Ramana ) ने टिप्पणी करते हुए कहा कि आजकल आए दिन सरकारें जजों की छवि धूमिल करती रहती हैं. ये दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है, हालांकि पहले सिर्फ निजी पक्षकार ही जजों के खिलाफ ऐसा करते थे. अब हम रोजाना ऐसा देखते हैं. इस अदालत में भी ऐसा हो रहा है. सीजेआई ने ये टिप्पणी छत्तीसगढ़ के पूर्व प्रमुख सचिव अमन सिंह और उनकी पत्नी के खिलाफ आय के घोषित स्रोतों से अधिक संपत्ति मिलने के मामले में सुनवाई करते हुए की. ये याचिका उचित शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की है.

इसमें राज्य के पूर्व प्रमुख सचिव और उनकी पत्नी के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति  के मामले में दर्ज एफआईआर को रद्द करने के छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती दी गई है. सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता की ओर से पेश वरिष्ठ वकील राकेश द्विवेदी ने अदालत के सामने अमन सिंह और उनकी पत्नी की संपत्ति का ब्यौरा दिया. सरकारों पर अपनी टिप्पणी के बाद CJI की अगुवाई वाली बेंच ने  सुनवाई 18 अप्रैल के लिए टाल दी. वहीं राज्य सरकार ने भी इस मामले में अलग से अपील दाखिल की है .

ये VIDEO भी देखें- बढ़ती कीमतों के विरोध में टैक्‍सी, ट्रांसपोर्ट यूनियन का प्रदर्शन, सब्सिडी देने या किराया बढ़ाने की मांग 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com