बेंगलुरु की सड़कों पर दिखा हजारों टीचरों का हुजूम, ड्रोन से कैद हुई तस्वीरें, जानें पूरा मामला

Teacher Strike At Bengaluru: बेंगलुरु की सड़कों पर आज प्राइवेट स्कूल के शिक्षकों का हुजुम देखने को मिला. प्राइवेट स्कूल के शिक्षक और गैर शिक्षण स्टाफ आज अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर नजर आए.

बेंगलुरु की सड़कों पर दिखा हजारों टीचरों का हुजूम, ड्रोन से कैद हुई तस्वीरें, जानें पूरा मामला

Bengaluru की सड़कों पर बड़ी संख्या में प्राइवेट स्कूल के कर्मी नजर आए

बेंगलुरु:

Teacher Strike At Bengaluru: बेंगलुरु की सड़कों पर आज प्राइवेट स्कूल के शिक्षकों का हुजुम देखने को मिला. प्राइवेट स्कूल के शिक्षक और गैर शिक्षण स्टाफ आज अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर नजर आए. बता दें कि सरकार ने स्कूलों के ट्शन शुक्ल को कम करने का फैसला लिया है. इसके विरोध में टीचर्स के साथ-साथ प्राइवेट स्कूलों में काम करने वाले ड्राइवर, सिक्योरिटी गार्ड और स्कूल प्रंबधन से जुड़े अन्य कर्मचारी सड़कों पर नजर आए. शिक्षकों के विरोध प्रदर्शन की ड्रोन फुटेज सामने आई है. जहां हजारों की संख्या में लोग बेंगलुरु की सड़कों पर पैदल चलते हुए दिखाई दे रहे हैं. इस प्रदर्शन की वजह से शहर का ट्रैफिक आधे घंटे से भी ज्यादा देर तक प्रभावित रहा. 

Read Also: असम का स्कूल 7 दिन के लिए सील, परिसर को 'कंटेनमेंट ज़ोन' किया गया घोषित

कर्नाटक प्राइवेट स्कूल मैनेजमेंट, टीचिंग एंड नॉन-टीचिंग स्टाफ को-ऑर्डिनेशन कमेटी द्वारा आयोजित इस विरोध प्रदर्शन में शिक्षकों ने बेंगलुरु के मेन रेलवे स्टेशन से लेकर फ्रीडम पार्क तक पैदल मार्च किया. इसमें बेंगलुरु के 10 का प्राइवेट स्कूल व अन्य संस्थानों ने हिस्सा लिया. 


Read Also: असमान वेतन: गुजारा चलाने के लिए शिक्षण के अलावा मजदूरी करने को मजबूर शिक्षक

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कर्नाटक के ज्यादातर स्कूलों ने सरकार के फैसले के विरोध में आज छुट्टी का ऐलान किया था. दरअसल सरकार ने स्कूलों ने इस सत्र के लिए सिर्फ 70 फीसदी ट्यूशन फीस लेने का आदेश दिया है. विरोध प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों की अपील है कि फीस में रियायत देने के इस फैसले को वापस लिया जाए और प्राइवेट स्कूलों में काम करने वाले कर्मियों के लिए अनुदान राशि जारी की जाए.