दिल्ली के सभी प्राइवेट स्कूलों में ऑनलाइन और सेमी-ऑनलाइन क्लासों पर रोक लगाई गई

दिल्ली सरकार ने औपचारिक आदेश जारी कर के 20 अप्रैल से 9 जून तक गर्मियों की छुट्टियों के दौरान ऑनलाइन क्लासेस या सेमी ऑनलाइन क्लास पर रोक लगा दी है.

दिल्ली के सभी प्राइवेट स्कूलों में ऑनलाइन और सेमी-ऑनलाइन क्लासों पर रोक लगाई गई

दिल्ली के सभी प्राइवेट स्कूलों में ऑनलाइन और सेमी-ऑनलाइन क्लासों पर रोक लगाई गई है.

नई दिल्ली:

दिल्ली के सभी प्राइवेट स्कूलों में ऑनलाइन और सेमी ऑनलाइन क्लासेस पर रोक लगा दी गई है. दरअसल, दिल्ली के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में 20 अप्रैल से 9 जून तक गर्मियों की छुट्टियां घोषित हो चुकी हैं. लेकिन इसके बावजूद कुछ प्राइवेट स्कूल ऑनलाइन क्लासेस चला रहे थे. जिसके बाद दिल्ली सरकार ने औपचारिक आदेश जारी कर के 20 अप्रैल से 9 जून तक गर्मियों की छुट्टियों के दौरान ऑनलाइन क्लासेस या सेमी ऑनलाइन क्लास पर रोक लगा दी है.

दिल्ली सरकार के शिक्षा विभाग ने दिल्ली के सभी प्राइवेट स्कूलों को ऑनलाइन/सेमी ऑनलाइन टीचिंग और लर्निंग एक्टिविटीज को समर वेकेशन की अवधि तक सस्पेंड करने का आदेश दिया है. शिक्षा विभाग को ये जानकारी मिली थी कि समर वेकेशन घोषित होने के बावजूद कई प्राइवेट स्कूल बिना किसी ब्रेक के फिजिकल क्लासरूम लर्निंग के नाम पर रेगुलर ऑनलाइन क्लासेज चला रहे हैं, जिसके बाद ये आदेश जारी किया गया है.


दिल्ली सरकार ने प्राइवेट स्कूलों को जारी किया सर्कुलर
दिल्ली सरकार की ओर से सभी प्राइवेट स्कूलों को एक सर्कुलर जारी किया गया है. सर्कुलर में कहा गया है कि कोविड-19 की मौजूदा स्तिथि को देखते हुए दिल्ली में समर वेकेशन को री-शेड्यूल करने का आदेश जारी किया गया था, जिसके तहत दिल्ली में 20 अप्रैल 2021 से 9 जून 2021 तक गर्मियों की छुट्टियां घोषित की गई हैं. इसके साथ ही एक अन्य आदेश जारी कर दिल्ली सरकार के सभी स्कूलों में ऑनलाइन और सेमी ऑनलाइन टीचिंग और लर्निंग एक्टिविटी को सस्पेंड करने का निर्देश भी दिया गया था. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कई प्राइवेट स्कूलों द्वारा समर वेकेशन होने के बावजूद रेगुलर ऑनलाइन लर्निंग एक्टिविटीज जारी रखने के मद्देनजर ये निर्देश दिया गया है कि सरकारी स्कूलों की तरह ही दिल्ली के सभी प्राइवेट स्कूलों में ऑनलाइन और सेमी ऑनलाइन टीचिंग और लर्निंग एक्टिविटी को समर वेकेशन की अवधि तक सस्पेंड रखा जाएगा. हालांकि बिना छात्रों को स्कूल बुलाए सभी स्कूल छुट्टियों से संबंधित खास एक्टिविटीज, रेमेडियल क्लासेज़ और अन्य एक्टिविटीज़ करा सकते हैं.