'द कश्मीर फाइल्स' पर बढ़ते विवादों के बीच फिल्म के डायरेक्टर को दी गई 'Y' कैटगरी सुरक्षा

सरकारी सूत्रों ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि उनकी 'वाई' कैटगरी सुरक्षा सीआरपीएफ कवर के साथ होगी. फीचर फिल्म, जिसे अभूतपूर्व सरकारी समर्थन मिल रहा है, कश्मीर घाटी में आतंकवाद के चरम पर होने के दौरान कश्मीरी हिंदुओं के पलायन पर आधारित है.

नई दिल्ली:

केंद्र सरकार ने हालिया रिलीज हुई फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' (The Kashmir Files) पर बढ़ते विवादों के बीच फिल्म के डायरेक्टर  विवेक अग्निहोत्री को 'Y' कैटगरी की सुरक्षा उपलब्ध कराई है. सरकारी सूत्रों ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि उनकी 'वाई' कैटगरी सुरक्षा सीआरपीएफ कवर के साथ होगी. फीचर फिल्म, जिसे अभूतपूर्व सरकारी समर्थन मिल रहा है, कश्मीर घाटी में आतंकवाद के चरम पर होने के दौरान कश्मीरी हिंदुओं के पलायन पर आधारित है.

देश भर के कई राज्यों से भारी सरकारी समर्थन और टैक्स छूट मिलने के बाद विवादास्पद फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सफल रही है और अब तक  ₹100 करोड़ का कलेक्शन कर चुकी है.

इस बात के लिए भी सरकार की कड़ी आलोचना हो रही है कि सरकार किसी एक व्यावसायिक फिल्म को राजनीतिक कारणों से तवज्जो दे रही है. इसके अलावा, फिल्म की संवेदनशील राजनीतिक प्रकृति और तथ्यों की अशुद्धि/जानबूझकर गलत बयानी के आरोपों के कारण सरकार पर प्रचार में लिप्त होने का भी आरोप लगाया जा रहा है.

'द कश्मीर फाइल्स' अधूरी फिल्म, दिखाने से खत्म होगा भाईचारा : मौर्य

डायरेक्टर विवेक अग्निहोत्री की फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' 11 मार्च को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी और उसके बाद से ही इसका कामयाबी का सफर जारी है. अनुपम खेर और मिथुन चक्रवर्ती ने शुरुआत धीमी की थी, लेकिन हर दिन के साथ इसके कलेक्शन में जोरदार इजाफा हुआ है. 

सात साल से सत्ता में रहने के बावजूद बीजेपी कश्मीरी पंडितों की वापसी कराने में विफल रही : कांग्रेस

देश के कई राज्यों में जहां इसे टैक्स फ्री कर दिया है, वहीं असम में तो इस फिल्म को देखने के लिए सरकारी कर्मचारियों को आधे दिन का अवकाश भी दे दिया गया. इस तरह फिल्म को लेकर कई राज्य सरकारें कई तरह के कदम उठा रही हैं. इस तरह द कश्मीर फाइल्स एक सरप्राइज हिट बन गई है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: 'PM मोदी को 'कश्मीर फाइल्स' देखकर कश्मीरी पंडितों की तकलीफ याद आई?' : असदुद्दीन ओवैसी