Air Pollution फेफड़ों के साथ कई अंगों को पहुंचाता है नुकसान, जानें बचाव के लिए 11 सबसे आसान तरीके

How To Avoid Air Pollution: हमारे घरों और ऑफिस को थोड़ा सुरक्षित बनाने के लिए सरल और प्रभावी तरीके हैं. यहां ऐसे तरीके दिए गए हैं जिन्हें आपको और आपके प्रियजनों को सबसे खराब हवा से सुरक्षित रखने के लिए फॉलो करना चाहिए.

Air Pollution फेफड़ों के साथ कई अंगों को पहुंचाता है नुकसान, जानें बचाव के लिए 11 सबसे आसान तरीके

How To Avoid Air Pollution: हमारे घरों और ऑफिस को थोड़ा सुरक्षित बनाने के लिए सरल और प्रभावी तरीके हैं.

To Protect From Air Pollution: साल की आखिरी महीनों में दिल्ली और उसके पड़ोसी राज्य एक बदसूरत धुंध में लिपटे रहते हैं. जाहिर सी बात है कि जहरीली हवा सभी को परेशान करती है, गले में जलन पैदा करती है और यहां तक ​​कि वायरल इंफेक्शन भी फैला सकती है. हम साल के ऐसे ही दिनों की और आगे बढ़ रहे हैं जो वायु प्रदूषण और कोहरे की चादर बाहर निकलने से रोकती है. कई लोग साल के इन महीनों में प्रदूषण से बचने के उपाय और वायु प्रदूषण से बचने का तरीका खोजते हैं. अस्थमा और हृदय संबंधी समस्याओं से पीड़ित लोगों के लिए ये स्थिति और भी खतरनाक होती है. हालांकि, इसका मतलब यह नहीं है कि हम हार मान लें. हमारे घरों और ऑफिस को थोड़ा सुरक्षित बनाने के लिए सरल और प्रभावी तरीके हैं. यहां ऐसे तरीके दिए गए हैं जिन्हें आपको और आपके प्रियजनों को सबसे खराब हवा से सुरक्षित रखने के लिए फॉलो करना चाहिए. 

वायु प्रदूषण से बचाव करने के तरीके | Ways To Prevent Air Pollution

1. मॉर्निंग वॉक से करें परहेज

व्यायाम करना जरूरी है लेकिन तब नहीं जब हम जहरीली हवा में सांस ले रहे हों. जो लोग चलते हैं, दौड़ते हैं / टहलते हैं या किसी बाहरी गतिविधि में शामिल होते हैं, उन्हें ऐसा तब तक करने से बचना चाहिए जब तक कि स्मॉग शांत न हो जाए. इन गतिविधियों को शाम के समय में शिफ्ट करें.

2. घर से बाहर निकलते समय फेस मास्क का प्रयोग करें

जब भी आप बाहर निकलें तो N95/99 मास्क का इस्तेमाल करना चाहिए. अगर आपको बिल्कुल बाहर जाना है, तो सुरक्षित रहने का सबसे अच्छा तरीका अच्छी गुणवत्ता वाला मास्क पहनना है.

3. वायु शुद्ध करने वाले पौधे

एलोवेरा, आइवी और स्पाइडर प्लांट जैसे एयर प्यूरीफाइंग प्लांट को घर और ऑफिस में लगाया जा सकता है. वे इनडोर वायु को शुद्ध करने और इनडोर प्रदूषण को कम करने में मदद करते हैं.

4. अपने किचन, बाथरूम को वेंटिलेट करें

घर के अंदर के वायु प्रदूषण से बचने के लिए किचन में चिमनी और बाथरूम में एग्जॉस्ट जरूर रखें. यह सुनिश्चित करेगा कि हवा फिर से प्रसारित हो. कम ही लोग जानते हैं कि घर के अंदर का प्रदूषण बाहरी प्रदूषण से भी बदतर हो सकता है.

5. एअर प्यूरिफायर का इस्तेमाल करें

एयर प्यूरीफायर का इस्तेमाल करें. खासकर बच्चों के कमरे और बुजुर्गों (और यहां तक कि गर्भवती महिलाओं) के कमरे में. वे इस जहरीली हवा के दुष्प्रभाव से सबसे अधिक ग्रस्त हो सकते हैं.

6. रोजाना भाप लें

हर दिन शाम को नीलगिरी के तेल की कुछ बूंदों के साथ भाप लेने की कोशिश करें ताकि आपके वायु-मार्ग को आराम मिले और आपके शरीर को हानिकारक कण पदार्थों को हटाने में मदद मिले.

7. अपनी कार की हवा को शुद्ध करें

जब आप सुबह अपनी कार शुरू करते हैं, तो हवा को प्रसारित करने के लिए अपनी खिड़की को नीचे रोल करें. इसके बाद कार एसी को इंडोर सर्कुलेशन मोड में चलाएं, जिससे पीएम 2.5 का स्तर काफी कम हो जाएगा.

8. अपने घर को वेंटिलेट करें

दोपहर 3 से 5 बजे के बीच अपनी खिड़कियां और दरवाजे खोलें और हवा को प्रसारित होने दें. तेज धूप वाले दिन, यह वह समय अंतराल होता है जब हवा में पीएम 2.5 की सांद्रता सबसे कम होती है.

9. डिटॉक्सिफिकेशन के लिए गुड़

अपने फेफड़ों से प्रदूषकों को बाहर निकालने के लिए गुड़ खाएं. आप गुड़ को गुनगुने पानी के साथ मिलाकर सेवन कर सकते हैं. या चीनी को गुड़ के साथ बदल सकते हैं.

10. विटामिन सी, ओमेगा फैटी एसिड से भरपूर डाइट

विटामिन सी, मैग्नीशियम से भरपूर फल और ओमेगा फैटी एसिड से भरपूर फूड्स का सेवन करें. एक हेल्दी डाइट आपकी प्रतिरक्षा को बनाए रखते हुए प्रदूषण के दुष्प्रभावों को दूर करने में आपकी मदद करेगा.

लंग कैंसर पर AIIMS Expert Oncologist Dr Sunil Kumar के साथ LIVE

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.