एम्स दिल्ली में 18 जून से ओपीडी सेवाएं फिर से होंगी शुरू

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) दिल्ली ने मंगलवार को घोषणा की कि वह कोविड-19 के बीच चरणबद्ध तरीके से 18 जून से ओपीडी सेवाएं शुरू करेगा. एम्स दिल्ली ने कहा कि ओपीडी रजिस्ट्रेशन केवल ऐसे रोगियों के लिए किया जाएगा, जिनकी पहले ऑनलाइन / टेलीफोनिक अपॉइंटमेंट है.

एम्स दिल्ली में 18 जून से ओपीडी सेवाएं फिर से होंगी शुरू

एम्स ने 24 मार्च, 2020 को अपनी ओपीडी सुविधाओं को बंद कर दिया था

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) दिल्ली ने मंगलवार को घोषणा की कि वह कोविड-19 के बीच चरणबद्ध तरीके से 18 जून से ओपीडी सेवाएं शुरू करेगा. एम्स दिल्ली ने कहा कि ओपीडी रजिस्ट्रेशन केवल ऐसे रोगियों के लिए किया जाएगा, जिनकी पहले ऑनलाइन / टेलीफोनिक अपॉइंटमेंट है. एम्स दिल्ली ने आगे कहा कि वॉक-इन रजिस्ट्रेशन की अनुमति देने का निर्णय बाद में कोविड-19 स्थिति की समीक्षा के बाद लिया जाएगा. कोविड-19 महामारी के मद्देनज़र एम्स ने 24 मार्च, 2020 को अपनी ओपीडी सुविधाओं को बंद कर दिया था, साथ ही नए और फॉलो-अप रोगियों के लिए भी.

यह महामारी के मैनेजमेंट के लिए एम्स में संसाधनों की डिप्यूटेशन के लिए किया गया था. हालांकि, डॉक्टर टेलीमेडिसिन के माध्यम से परामर्श दे रहे थे और केवल आपातकालीन मामलों को ही लिया जा रहा था. कोविड -19 स्थिति के आधार पर, ओपीडी सेवाओं को पिछले साल आंशिक रूप से फिर से शुरू या बंद कर दिया गया था.


एम्स में भी कोरोना संक्रमण के मरीजों की संख्या कम हो गई है. ऐसे में एम्स में चरणबद्ध तरीके से ओपीडी सेवा व रूटीन सर्जरी शुरू की जा रही है. अभी फिलहाल, गंभीर मरीजों की इमरजेंसी के माध्यम से सर्जरी हो रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोरोनोवायरस संक्रमण बढ़ने के बीच, एम्स दिल्ली ने 22 अप्रैल से अपनी फिजिकल ओपीडी सेवाओं को बंद किया था ताकि वायरस के प्रसार को रोकने और कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए संसाधनों में वृद्धि की जा सके. पांच हफ्ते के सख्त लॉकडाउन के बाद, दिल्ली में पूरी तरह से दुकानें और मॉल फिर से खोल दिए हैं, और रेस्तरां में 50% लोगों को बैठने की अनुमति दी है.