विज्ञापन
Story ProgressBack

स्ट्रेस और एंग्जायटी को दूर करता है योग, मेंटल हेल्थ के लिए बेस्ट मेडिसिन, बढ़ाता है ताकत, जानें योग करने के 6 गजब फायदे

Yoga For Stress Relief: लंबे समय से इस हार्मोन्स का उच्च स्तर शरीर और केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के लिए नुकसानदायी हैं. योग शरीर में तनाव हार्मोन को कम करने या संतुलित करने में मदद कर सकता है.

Read Time: 3 mins
स्ट्रेस और एंग्जायटी को दूर करता है योग, मेंटल हेल्थ के लिए बेस्ट मेडिसिन, बढ़ाता है ताकत, जानें योग करने के 6 गजब फायदे
योग शरीर में स्ट्रेस हार्मोन को कम करने में मदद कर सकता है.

Benefits of Yoga For Depression: योग न सिर्फ शरीर को फिट करता है बल्कि हमारे मन को भी शांत भी करता है. मेंटल हेल्थ के लिए योग को बेहद फायदेमंद माना जाता है. योग स्ट्रेस हार्मोन, एड्रेनालाइन और कोर्टिसोल को कंट्रोल करके स्ट्रेस और एंग्जायटी को कम करने में मदद करता है. लंबे समय से इस हार्मोन्स का हाई लेवल शरीर और केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के लिए नुकसानदायी हैं. योग शरीर में स्ट्रेस हार्मोन को कम करने या बैलेंस करने में मदद कर सकता है.

स्ट्रेस से रिकवरी में योग कैसे फायदेमंद है? How Is Yoga Beneficial In Recovery From Stress?

1. रिलैक्स करता है

योग से मन और दिमाग दोनों ही शांत होते हैं और तनाव कम होता है. फिजिकल मोमेंट्स और सांसों पर ध्यान केंद्रित करना स्ट्रेस हार्मोन को कम करते हुए ब्लड प्रेशर, हार्ट रेट और मसल्स के तनाव को कम करने में मदद कर सकता है.

2. बढ़ती है ताकत

योगासन मांसपेशियों को टोन करने, लचीलापन बढ़ाने और ताकत में सुधार करने में मदद करते हैं. योग के दौरान होने वाली एक्टिविटीज शरीर को फिट रखने में मदद करती हैं और शरीर की ताकत बढ़ती है.

यह भी पढ़ें: चिलचिलाती गर्मी में लू से बचने के लिए 6 कमाल के घरेलू उपाय, गर्मी की तपिश में भी ताजगी और फूर्ति करेंगे महसूस

3. शरीर को डिटॉक्सिफाई करता है

फिजिकल एक्टिविटीज और अलग-अलग पोज करने से शरीर से पसीना बाहर निकलता है. कोशिकाओं में बढ़ी हुई ऑक्सीजन तब शरीर को टॉक्सिन्स से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकती है.

4. कॉन्फिडेंस बढ़ाता है

योग अपनाते समय हमें एक नई फिटनेस चुनौती का सामना करना पड़ता है. जब आप एक नई एक्टिविटीज से निपटते हैं और सीखते हैं कि इसमें धीरे-धीरे सुधार कैसे करें और आखिरकार इसमें महारत कैसे हासिल करें, तो इससे आपका कॉन्फिडेंस भी बढ़ता है.

यह भी पढ़ें: इन 5 लोगों के लिए किसी अमृत से कम नहीं है सुबह खाली पेट किशमिश को दूध में भिगोकर पीना

5. आत्म-जागरूकता को बढ़ाता है

योग का अभ्यास माइंडफुलनेस मेडिटेशन के अभ्यास के समान ही है. ये दोनों हमें अपने विचारों को कंट्रोल करने हमारी भावनाओं के अलावा हमारे परिवेश और संवेदी अनुभव के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए तैयार करते हैं.

6. मूड में सुधार

जबकि योग चिंता की भावनाओं को कम करने में मदद करता है. योग का अभ्यास डिप्रेशन को दूर करता है. योग मुद्राएं GABA को बढ़ाती हैं. गाबा एक न्यूरोट्रांसमीटर है जो ब्रेन में नर्व सेल्स को अवरुद्ध कर सकता है, जिसे अवसाद का एक कारक माना जाता है.

(अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
खाना खाने के बाद 10 मिनट कर लें ये काम, कभी नहीं बाहर निकलेगा पेट, लटकती तोंद भी होगी अंदर
स्ट्रेस और एंग्जायटी को दूर करता है योग, मेंटल हेल्थ के लिए बेस्ट मेडिसिन, बढ़ाता है ताकत, जानें योग करने के 6 गजब फायदे
केवल फेफड़ों को नहीं आपकी प्रजनन क्षमता पर असर डालता है तंबाकू, बना सकता है बहुत बीमार
Next Article
केवल फेफड़ों को नहीं आपकी प्रजनन क्षमता पर असर डालता है तंबाकू, बना सकता है बहुत बीमार
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;