High Grade Metastatic Cancer की शिकार हुईं सोनाली बेंद्रे, जानें इसके बारे में सबकुछ

सोनाली बेंद्रे ने एक लंबी पोस्ट में कहा, कभी-कभी जब आपको जरा भी उम्मीद नहीं होती जिंदगी अचानक आपको अजीब से मोड़ पर लाकर खड़ा कर देती है

High Grade Metastatic Cancer की शिकार हुईं सोनाली बेंद्रे, जानें इसके बारे में सबकुछ

अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे का कहना है कि वह कैंसर से जूझ रही हैं. सोनाली के मुताबिक उनमें High Grade Metastatic Cancer, 'हाई ग्रेड कैंसर' की पहचान की गई है और उनका न्यूयॉर्क में इलाज चल रहा है. अभिनेत्री ने बुधवार को अपने स्वास्थ्य के बारे में इस खबर को ट्विटर व इंस्टाग्राम के जरिए साझा किया. उन्होंने अपने परिवार व दोस्तों का साथ देने के लिए आभार जताया. सोनाली बेंद्रे ने एक लंबी पोस्ट में कहा, "कभी-कभी जब आपको जरा भी उम्मीद नहीं होती जिंदगी अचानक आपको अजीब से मोड़ पर लाकर खड़ा कर देती है. हाल ही में मुझ में हाई-ग्रेड कैंसर की पहचान की गई है, जिसके बारे में वाकई में हमें पता तक नहीं चला."
 



उन्होंने कहा, "हल्के दर्द के चलते कुछ टेस्ट करवाए, जिससे ऐसी रिपोर्ट आई जिसकी उम्मीद तक नहीं थी. मेरा परिवार और मेरे दोस्त मेरे चारों तरफ मजबूती से खड़े हैं और पूरा साथ दे रहे हैं. मैं बहुत खुशकिस्मत और उन सबकी आभारी हूं."

अभिनेत्री का न्यूयॉर्क में इलाज चल रहा है.
 

कैंसर फाइटर बच्चों के लिए रखें इस बात का ध्यान...

क्या सचमुच! मकड़ी आपको बचा सकती है कैंसर से...

सावधान! पैन्क्रीऐटिक या अग्नाशय कैंसर का संकेत हो सकती है डायबिटीज...


उन्होंने आगे लिखा है, "इससे निपटने के लिए तुरंत ऐक्शन लेने से बेहतर कोई तरीका नहीं था. इसलिए अपने डॉक्टरों की सलाह पर मैं न्यूयॉर्क में इलाज करवा रही हूं. हम सकारात्मक बने रहेंगे और मैं हर कदम पर लड़ने को तैयार हूं."

उन्होंने कहा, "मुझसे जिससे बहुत मदद मिली वह बीते कुछ सालों में मिलने वाला प्यार और समर्थन है, जिसके लिए मैं आभारी हूं. मैं इस जंग में आगे बढ़ रही हूं यह जानते हुए कि मेरे पीछे मेरे परिवार और दोस्तों की ताकत है."
 


सोनाली टीवी शो 'इंडियाज बेस्ट ड्रामेबाज' में बतौर जज काम कर रही थीं, लेकिन हाल ही में उनकी जगह हुमा कुरैशी को जगह दिया गया है. सोनाली ने निर्माता गोल्डी बहल से शादी की है. उनका एक बेटा रणवीर हैं.
 

Heart Failure: इस बीमारी से मर रहे हैं 1 करोड़ लोग, ये हो सकता है इलाज


क्या है Metastatic Cancer
इस पोस्ट में सोनाली ने metastised शब्द का प्रयोग किया है. इस शब्द का मतलब है कैंसर का फैलना. दरअसल, कैंसर सेल्स का टूटने के बाद शरीर के नए अंगों में फैल जाना ही मेटास्टेटिक या मेटास्टेटिक कैंसर है. यहां यह समझना भी जरूरी है कि हर ट्यूमर कैंसर नहीं होता. ऐसे कैंसर को मेटास्टेटिक कहा जाता है जब ट्यूमर में पैदा हुआ कैंसर जब शरीर के प्राइमरी भाग, जहां कैंसर बन चुका हो से दूसरे हिस्सों में फैल जाता है. 

कैसे फैलता है
कोई भी कैंसर, कैंसर बनने से पहले ट्यूमर की अवस्था में पाया जा सकता है. कई बार सर्जरी के बाद या पहले ही कैंसर के टूट जाने की वजह से यह खून के जरिए पूरे शरीर में फैल जाता है. डॉक्टरों के अनुसार यह शरीर के किसी भी दूसरे अंग को संक्रमित कर वहां कैंसर पैदा कर सकता है. इस तरह कैंसर फैलने के बाद यह लिवर, दिमाग, बोन्स या शरीर के किसी भी अंग पर हमला कर सकता है. 
 

ब्रेन ट्यूमर: यहीं खत्म नहीं होता सफर, जी सकते हैं लंबी जिंदगी


क्या हैं लक्षण
हाई ग्रेड कैंसर के लक्षण- 
- हड्डियों में दर्द
- कमजोरे हड्डियां
- हाथ और पैरों में कमज़ोरी आना
- उलटी और दस्त होना
- ब्लैडर का कमजोर होना या 
- खून में कैल्शियम बढ़ना 

मुश्किल है इलाज
सोनाली बेंद्रे के प्रशंसकों के लिए यह बात दुखद हो सकती है, लेकिन मेटास्टेसिस कैंसर को नियंत्रण में करना काफी मुश्किल होता है. अगर यह शुरुआत में ही पकड़ में आ जाए तो भी संभावनाएं होती हैं, लेकिन अंतिम स्टेज पर तो इसका इलाज बेहद कठिन है.
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


स्किन कैंसर के खतरे को कम करती है वेट लॉस सर्जरी


क्या होगी ट्रीटमेंट 
सिस्टमिक थेरेपी, मेटास्टेसिस कैंसर के इलाज में इस्तेमाल की जाती है. इसके अलावा इसे शरीर के दूसरे हिस्सों में फैलने देने से बचाने के लिए भी प्रयास किए जाते हैं, जिनमें दवा, इंजेक्शन या फिर कीमोथेरेपी तक का सहारा लिया जाता है. कैंसर की यह अवस्था बेहद खतरनाक होती है और इससे निजात के लिए कई बार हार्मोन थेरेपी या रेडिएशन थेरेपी भी इस्तेमाल में ली जाती है. 

और खबरों के लिए क्लिक करें.