Mental Health: मेमोरी को बूस्ट और पावर देने के लिए बहुत पॉपुलर हैं ये 3 न्यूट्रिएंट्स, चिंता और तनाव की करेंगे छुट्टी

Memory Boosting Foods: अपने मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखकर हम अपनी प्रोडक्टिविटी को बढ़ा सकते हैं. इसके साथ ही चिंता और तनाव से दूर रहकर आप हमेशा सकारात्मक रहेंगे. यहां 3 ऐसे ही पोषक तत्व हैं जो आपकी मदद कर सकते हैं.

Mental Health: मेमोरी को बूस्ट और पावर देने के लिए बहुत पॉपुलर हैं ये 3 न्यूट्रिएंट्स, चिंता और तनाव की करेंगे छुट्टी

Mental Health: बी विटामिन और जिंक आपकी मदद कर सकते हैं.

खास बातें

  • तनाव और चिंता की वजह से कई लोगों की डेली एक्टिविटीज पर इफेक्ट पड़ता है.
  • आपकी डाइट का चिंता और अवसाद के लक्षणों पर गहरा असर पड़ता है.
  • यहां 3 ऐसे ही पोषक तत्व हैं जो आपकी मदद कर सकते हैं.

Memory Power: चिंता के लक्षणों को कम करने और बेहतर मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के  लिए कुछ न्यूट्रिएंट्स और विटामिन काफी लाभकारी होते हैं. तनाव और चिंता की वजह से कई लोगों की डेली एक्टिविटीज पर इफेक्ट पड़ता है. आपकी डाइट का चिंता और अवसाद के लक्षणों पर गहरा असर पड़ता है. कुछ फूड्स, मिनरल्स और विटामिन मानसिक स्वास्थ्य को हेल्दी बनाए रखने और मेमोरी को बूस्ट करने में मददगार होते हैं. यहां 3 ऐसे ही पोषक तत्वों के बारे में बताया गया है जो मेंटल हेल्थ को अपलिफ्ट कर सकते हैं.

मेमोरी पावर बढ़ाने के लिए खाएं ये फूड्स | Foods That Increase Memory Power

1) बी विटामिन

बी विटामिन आठ अलग-अलग पोषक तत्वों का एक समूह है. खासकर से बी 6, बी 9 (फोलिक एसिड) और बी 12 जो तंत्रिका तंत्र के समुचित कार्य के लिए जरूरी हैं और चिंता को मैनेज करने में मदद कर सकते हैं. मूंगफली, फलियां और हरी पत्तेदार सब्जियां बी विटामिन के अच्छे स्रोत हैं.

इन शुरुआती लक्षणों से लगाएं भूलने की बीमारी का पता, जानें वार्निंग साइन, इन 3 लोगों को है अल्जाइमर का ज्यादा रिस्क

2) जिंक

जिंक से भरपूर फूड्स ऑक्सीडेटिव तनाव से जुड़े होते हैं जो जीएबीए और ग्लूटामेट लेवल को कम कर सकते हैं और एक एंगोजेनिक प्रभाव पैदा कर सकते हैं. जिंक से भरपूर फूड्स चिंता के लक्षणों को सुधारने में मदद कर सकते हैं. जिंक के अच्छे स्रोतों में ऐमारैंथ, गार्डन-क्रेस सीड्स और सभी मसूर शामिल हैं.

3) विटामिन डी

बहुत से लोगों में विटामिन डी की कमी होती है या उनमें विटामिन डी का लेवल कम होता है. ये एक वसा में घुलनशील पोषक तत्व है जो मस्तिष्क के कामकाज और मनोदशा के नियमन के लिए जरूरी है. अध्ययनों से पता चलता है कि विटामिन डी की अपर्याप्तता या कमी मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति वाले लोगों में विशेष रूप से आम है जिसमें चिंता विकार भी शामिल हैं. अंडे की जर्दी, मशरूम, विटामिन डी फोर्टिफाइड फूड्स और सप्लीमेंट्स विटामिन डी के अच्छे स्रोत हैं.

सुबह उठने के बाद थकान, लो एनर्जी और सिर भारी लगता है, तो इन 3 चीजों का करें सेवन

4) ओमेगा -3 फैटी एसिड

फैटी एसिड चिंता के लक्षणों से निपटने में मदद कर सकते हैं. फैटी एसिड के अच्छे स्रोत हैं चिया सीड्स, फ्लैक्स सीड्स और घी. इसको अपनी डाइट में शामिल करें.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com