UEFA Champions League 2019: टॉटेनहम को हराकर लीवरपूल छठी बार बना चैंपियन

UEFA Champions League 2019: टॉटेनहम को हराकर लीवरपूल छठी बार बना चैंपियन

UEFA Champions League 2019: जीत के बाद जश्न मनाती लीवरपूल की टीम

खास बातें

  • फाइनल मुकाबले में सालाह ने दागा पहला गोल
  • लीवरपूल ने टाटेनहम हासट्पर को 2-0 से हराया
  • इससे पहले पांच बार चैंपियन लीग जीत चुका है लीवरपूर
मेड्रिड:

UEFA Champions League 2019: मोहम्मद सालाह  (Mohamed Salah) और डिवोक ओरीगी (Divock Origi) के गोलों की मदद से लीवरपूल (Liverpool F.C.) ने वांदा मेट्रोपोलिटन स्टेडियम (Wanda Metropolitano Stadium) में खेले गए चैम्पियंस लीग (UEFA Champions League 2019) के फाइनल मुकाबले में टॉटेनहम हाट्सपर (Tottenham Hotspur F.C.) को 2-0 हरा दिया. इस जीत के साथ ही लीवरपूल ने छठी बार फुटबॉल की इस प्रतिष्ठित ट्रॉफी पर कब्जा जमाया है.चैम्पियंस लीग के इतिहास में यह दूसरा मौका था जब इंग्लैंड के दो क्लबों के बीच फाइनल खेला गया. टॉटेनहम जहां पहली बार यूरोप के इस सबसे प्रतिष्ठित क्लब खिताब के लिए प्रयासरत था, वहीं लीवरपूल को छठे खिताब का इंतजार था.

FOOTBALL: बायर्न म्युनिख ने जर्मन कप का खिताब भी अपनी झोली में डाला

इस क्रम में सफलता लीवरपूल को मिली, क्योंकि उसके सबसे करिश्माई खिलाड़ी मोहम्मद सालाह ने दूसरे मिनट में ही हासिल पेनाल्टी को गोल में बदलकर अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया. मध्यांतर तक यही स्कोर रहा.


इस वजह से पत्थरबाजी की घटना में शामिल हुई थीं कश्मीरी फुटबॉलर अफशां आशिक

इसके बाद टॉटेनहम ने बराबरी का गोल करने की पुरजोर कोशिश की, लेकिन उसे सफलता नहीं मिली. इस क्रम में उसने हालांकि लीवरपूल को भी गोल करने से रोके रखा, लेकिन रेगुलेशन टाइम से तीन मिनट पहले ओरीगी टॉटेनहम की रक्षापंक्ति में सेंध लगाने में सफल रहे. जोएल माटिप की मदद से 87वें मिनट में गोल कर ओरीगी ने टाटेनहम की वापसी की उम्मीदों पर पानी फेर दिया और अपनी टीम की जीत पक्की कर दी.

FOOTBALL: बायर्न म्युनिख ने लगातार सातवीं बार जीता जर्मन लीग का खिताब

जुर्गेन क्लाप की टीम लगातार दूसरे साल फाइनल में पहुंची थी. बीते साल कीव के मेट्रोपोलिटन स्टेडियम में उसे रियल मेड्रिड के हाथों 1-3 से हार का सामना करना पड़ा था. उस मैच में सालाह रियल के कप्तान सर्गियो रामोस द्वारा गलत तरीके से टैकल किए गए थे, जिस कारण वह आगे नहीं खेल सके थे. हालांकि इस साल मैदान पर आते ही सालाह ने गोल कर अपनी टीम को छठी बार चैम्पियन बनाने की कहानी लिख दी. पिछले बार लीवरपूल ने 2005 के बाद यह खिताब जीता है. उससे पहले 1977, 1978, 1981, 1984, और 2005 में चैम्पियन बनने का गौरव हासिल किया था.

World Cup 2019: नेट अभ्यास के दौरान विराट कोहली हुए चोटिल, लेकिन...

हालांकि रियल ने चैम्पियंस लीग का खिताब सर्वाधिक 13 बार जीता है. इटली के क्लब एसी मिलान ने सात बार. अब छह बार खिताब जीतकर लीवरपूल तीसरे नंबर पर आ गया है. इस जीत के साथ लीवरपूव ने बायर्न म्यूनिख और एफसी बार्सिलोना (दोनों 5-5) बार को पीछे छोड़ दिया है.

(इनपुटः आईएएनएस)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: कुछ समय पहले भारतीय फुटबॉल कप्तान सुनील छेत्री ने एनडीटीवी से बात की थी.