Surya Grahan 2021: कल है साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, जानें ग्रहण से जुड़े कुछ मिथक

Solar Eclipse 2021: कल 4 दिसंबर शनिवार को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण लग रहा है. इस सूर्य ग्रहण की कुल अवधि 4 घंटे 8 मिनट होगी. इस सूर्य ग्रहण को भारत में नहीं देखा जा सकेगा, जिसकी वजह से इसका सूतक काल भी मान्य नहीं होगा.

Surya Grahan 2021: कल है साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, जानें ग्रहण से जुड़े कुछ मिथक

Surya Grahan December 2021: सूर्य ग्रहण तब होता है जब सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी एक रेखा में होते हैं.

खास बातें

  • साल का आखिरी सूर्य ग्रहण एक ध्रुवीय ग्रहण के रूप में दिखाई देगा.
  • ग्रहण से जुड़े कई मिथक और लेजन्ड हैं.
  • ग्रहण के दौरान कई लोग खाना खाने से परहेज करते थे.

Surya Grahan 2021: कल 4 दिसंबर शनिवार को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण लग रहा है. इस सूर्य ग्रहण की कुल अवधि 4 घंटे 8 मिनट होगी. इस सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse 2021)को भारत में नहीं देखा जा सकेगा, जिसकी वजह से इसका सूतक काल भी मान्य नहीं होगा. सूर्य ग्रहण तब होता है जब सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी एक रेखा में होते हैं, ठीक क्रम की तरह. जब ऐसा होता है, तो चंद्रमा सूर्य के प्रकाश के एक हिस्से को पृथ्वी तक पहुंचने से रोकता है. साल का आखिरी सूर्य ग्रहण एक ध्रुवीय ग्रहण के रूप में दिखाई देगा, जो अंटार्कटिका महाद्वीप पर होगा. सूर्य ग्रहण दुनिया के कई हिस्सों से दिखाई देगा. यह सूर्य ग्रहण अंटार्कटिका के अलावा दक्षिण अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और दक्षिणी अटलांटिक के देशों में देखा जा सकता है. 

सूर्य ग्रहण 2021 का समयः (Solar Eclipse Timeing)

4 दिसंबर को सुबह 10:59 से प्रारंभ होकर दोपहर 03:07 पर समाप्त हो जाएगा.

gsi388rg

सूर्य ग्रहण में खाने से जुड़े मिथकः  (Myths Related To Eating During Solar Eclipse)

कल 4 दिसंबर शनिवार को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण लग रहा है, और ग्रहण से जुड़े कई मिथक और लेजन्ड हैं. बहुत पहले, जब विज्ञान ने इतनी प्रगति नहीं की थी. सूर्य और चंद्रमा जैसे खगोलीय पिंड अत्यधिक पूजनीय थे, ग्रहण जैसे उदाहरणों को एक अपभ्रंश के रूप में देखा जाता था. कई लोगों ने इस अवधि को अशुभ मानते थे, और ग्रहन के दौरान खाना खाने से परहेज करते थे. भारत में, बहुत से लोग अभी भी ग्रहण के बाद चारों ओर पड़े हुए भोजन को त्याग देते हैं, या भोजन के ऊपर तुलसी का पत्ता रखते हैं. ग्रहण समाप्त होने के बाद बहुत से लोग स्नान भी करते हैं और फिर भोजन ग्रहण करते हैं, उपवास करते हैं. सूर्य ग्रहण के दौरान दान देना शुभ माना जाता है. इस दौरान कई लोग कई चीजों का दान भी करते हैं. कई वैज्ञानिकों ने खाने से जुड़ी इन धारणाओं को खारिज करते हुए कहा है, कि ये खगोलीय पिंड लगातार गतिशील हैं, इसलिए उपवास करने की कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि फूड्स के लिए कोई खतरा नहीं है. हालांकि, ग्रहण को नग्न आंखों से देखने की सलाह नहीं दी जाती है. यदि आप ग्रहण के दौरान असहज या चिंतित महसूस कर रहे हैं, तो योग विशेषज्ञों के अनुसार ध्यान लगाना एक अच्छा विचार हो सकता है.

Ayurveda Food Combining: इन चीजों को न खाएं साथ, हैं खतरनाक! Doctor से जानें रॉन्ग कॉम्बिनेशन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.