महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण आंदोलन हुआ हिंसक, देवेंद्र फडणवीस और सीएम शिंदे के बीच चर्चा : 10 बड़ी बातें

मराठा समुदाय के लिए आरक्षण की मांग को लेकर जारी आंदोलन को सोमवार को हिंसा और आगजनी ने अपनी गिरफ्त में ले लिया. प्रदर्शनकारियों ने तीन विधायकों के घरों और कार्यालयों में तोड़फोड़ की और आग लगा दी तथा एक नगरपालिका भवन को फूंकने के साथ सड़क जाम कर दिया.

मराठा समुदाय के लिए आरक्षण की मांग को लेकर जारी आंदोलन को सोमवार को हिंसा और आगजनी ने अपनी गिरफ्त में ले लिया. प्रदर्शनकारियों ने तीन विधायकों के घरों और कार्यालयों में तोड़फोड़ की और आग लगा दी तथा एक नगरपालिका भवन को फूंकने के साथ सड़क जाम कर दिया.

मराठा आरक्षण आंदोलन से जुड़े ताजा अपडेट्स

  1. सोमवार को मराठा आरक्षण आंदोलन हिंसक हो गया. NCP विधायक प्रकाश सोलंके घर में आग लगा दी गई. बीड स्थित शरद पवार गुट का दफ़्तर भी आग के हवाले कर दिया गया.

  2. महाराष्ट्र में मराठा आरक्षण आंदोलन के दौरान हिंसा की घटनाओं के बाद धाराशिव जिले में कर्फ्यू लगाया गया है, स्थानीय प्रशासन ने यह जानकारी दी.

  3. हालांकि, दवा और दूध की दुकानों, सरकारी कार्यालयों, बैंकों, सार्वजनिक परिवहन सेवाओं, अस्पतालों और मीडिया को इससे छूट दी गयी है.

  4. जिले के विभिन्न हिस्सों में मराठा समुदाय को आरक्षण देने की मांग को लेकर आंदोलन और भूख हड़ताल चल रही है.

  5. मराठा समुदाय के सदस्य सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) श्रेणी के तहत आरक्षण की मांग करते हुए राज्य के विभिन्न हिस्सों में प्रदर्शन कर रहे हैं।

  6. बीड नगर परिषद में भी आग लगाईं और तोड़फोड़ की गई. बीड में प्रशासन ने धारा 144 लागू कर दी है.

  7. रात 8 मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने राज्यपाल रमेश बैस से मुलाक़ात की. जानकारी के मुताबिक़ इस बैठक में राज्य की क़ानून व्यवस्था और दूसरे मुद्दों पर बातचीत हुई है

  8. रात क़रीब 10 बजे उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से चर्चा की. आज होने वाली महाराष्ट्र कैबिनेट की बैठक में जस्टिस संदीप शिंदे की कमेटी का रिपोर्ट सरकार स्वीकार कर सकती है.

  9. शिंदे कमिटी की रिपोर्ट में कहा है कि एक लाख लोगों से दस्तावेज़ देखने के बाद 11,530 मराठाओं के पास कुणबी होने के दस्तावेज़ मिले हैं.

  10. देर रात सोलापुर और पंढरपुर से भी आगज़नी की तस्वीरें सामने आई. मराठा आंदोलनकारियों ने राज्य परिवहन निगम की बस को आग के हवाले कर दिया.