दिल्ली मेट्रो का किराया बढ़ने के खिलाफ उठी आवाज, छात्रों-मजदूर संघों ने विरोध-प्रदर्शन किया

मेट्रो के किराये में वृद्धि की घोषणा किए जाने के बाद से कई छात्र संगठन, मजदूर संघ और महिला अधिकार संगठन डीएमआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं.

दिल्ली मेट्रो का किराया बढ़ने के खिलाफ उठी आवाज, छात्रों-मजदूर संघों ने विरोध-प्रदर्शन किया

खास बातें

  • दिल्ली मेट्रो मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया गया.
  • DMRC करीब 30 प्रतिशत का लाभ कमा रहा है- अखिल भारतीय छात्र संघ
  • प्रदर्शनकारियों के प्रतिनिधियों से डीएमआरसी के अधिकारी मिले.
नई दिल्‍ली:

दिल्ली मेट्रो का किराया बढ़ाए जाने को लेकर छात्रों एवं मजदूर संघों ने शुक्रवार को यहां दिल्ली मेट्रो मुख्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया.

अखिल भारतीय छात्र संघ के दिल्ली अध्यक्ष नीरज कुमार ने कहा, 'दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) करीब 30 प्रतिशत का लाभ कमा रहा है, लेकिन हाल में उठाया गया कदम आम लोगों पर बोझ डालकर ज्यादा लाभ कमाने की उसकी बेसब्री को दिखाता है'. भाकपा-माले (लिबरेशन), उसके छात्र संगठन आइसा और अखिल भारतीय मजदूर संघ केंद्रीय परिषद (एआईसीसीटीयू) ने बाराखंभा रोड पर मेट्रो भवन के बाहर विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया था.

मेट्रो के किराये में वृद्धि की घोषणा किए जाने के बाद से कई छात्र संगठन, मजदूर संघ और महिला अधिकार संगठन डीएमआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं.

उल्‍लेखनीय है कि गत दस मई को डीएमआरसी ने तीन सदस्यीय किराया निर्धारण समिति की सिफारिशों के आधार पर अपने किराये बढ़ा दिए थे.

कुमार ने कहा, 'ऐसे समय में जब दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) लोगों की जरूरतों को पूरा करने को लेकर दबाव का सामना कर रहा है, दिल्ली मेट्रो के किराये में वृद्धि से आने वाले दिनों में लोगों को और परेशानी होगी'. उन्होंने कहा कि किराये में वृद्धि से मेट्रो में सफर करने वाले लोगों की संख्या कम होगी, जिससे सड़क यातायात और बढ़ जाएगा.

हालांकि प्रदर्शनकारियों के प्रतिनिधियों से मिले डीएमआरसी के अधिकारियों ने कहा कि किराये में वृद्धि को वापस लेने का फैसला सरकार को करना है.

(इनपुट भाषा से)


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com