'पसंदीदा एजेंसी से लव लेटर मिला' : प्रवर्तन निदेशालय के नोटिस पर AAP का तंज

 'आम आदमी पार्टी (AAP) को नरेंद्र मोदी सरकार की पसंदीदा एजेंसी से 'लव लेटर' मिला है' आम आदमी पार्टी नेता राघव चड्ढा (AAP leader Raghav Chadha) ने सोमवार सुबह तंज के भाव में यह ट्वीट किया.

'पसंदीदा एजेंसी से लव लेटर मिला' : प्रवर्तन निदेशालय के नोटिस पर AAP का तंज

प्रवर्तन निदेशालय के नोटिस पर 'आप' नेता राघव चड्ढा ने ट्वीट किया

नई दिल्‍ली :

 'आम आदमी पार्टी (AAP) को नरेंद्र मोदी सरकार की पसंदीदा एजेंसी से 'लव लेटर' मिला है' आम आदमी पार्टी नेता राघव चड्ढा (AAP leader Raghav Chadha) ने सोमवार सुबह तंज के भाव में यह ट्वीट किया. उन्‍होंने बताया कि प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) की ओर से पार्टी को पत्र मिला है. चड्ढा ने कहा कि वे बीजेपी के राजनीतिक निशाने पर आई AAP से जुड़े इस मामले पर दोपहर 1.30 बजे प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करेंगे. उन्‍होंने ट्वीट किया, 'आम आदमी पार्टी को मोदी सरकार की फेवरेट एजेंसी - प्रवर्तन निदेशालय से लव लेटर मिला है. मैं AAP के खिलाफ बीजेपी की राजनीतिक साजिश का पर्दाफाश करने के लिए दोपहर 1.30 बजे AAP मुख्‍यालय पर प्रेस कॉन्‍फ्रेंस को संबोधित करूंगा.'


वित्‍तीय अपराधों की जांच करने वाले प्रवर्तन निदेशालय के खिलाफ चड्ढा का यह 'लव लेटर' वाला तंज शिवसेना के सांसद संजय राउत के पिछले माह किए गए कमेंट की ही तरह का है. महाराष्‍ट्र के मंत्री अनिल परब को ईडी के समक्ष पेश होने के मिले फरमान को लेकर राउत ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा था. शिवसेना नेता ने कहा था कि केंद्र सरकार, इस जांच एजेंसी का इस्‍तेमाल राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ 'हथियार' के तौर पर कर रही है.राउत ने कहा था, 'हमारे परिवहन मंत्री परब को अचानक ईडी का नोटिस मिला है. यह हमारे लिए बड़ी बात नहीं है. यह कोई 'डेथ वारंट' नहीं है. ईडी ने अपने सर्वश्रेष्‍ठ ऑफिसर को बीजेपी ऑफिस में रखा है या बीजेपी ने अपने पदाधिकारी को ईडी में रखा है. इस तरह के लेटर उनको आते हैं जो राजनीति में हैं. '

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- - ये भी पढ़ें - -
* गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा- जनता के दिलों में रहता हूं, कोई मुझे नहीं निकाल सकता
* 'एक व्यक्ति की चोर समझकर बांधा, पीट-पीटकर हत्या कर दी
* सीएम योगी का ट्वीट- नौकरी नीलाम करेंगे तो घर नीलाम कर देंगे- यूजर्स बोले- पहले दे तो दीजिए
* अखिलेश और मायावती की नासमझी की वजह से नरेंद्र मोदी दो बार प्रधानमंत्री बने : ओवैसी