Omicron नाम की क्रिप्टोकरेंसी रिकॉर्ड तेजी से चर्चा में, 3 दिनों में 50,000 का लेवल छूकर गिरी

Omicron Cryptocurrency : कोरोनावायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के नाम वाली यह क्रिप्टोकरेंसी पिछले दिनों 10 गुना उछल गई थी. पिछले हफ्ते साउथ अफ्रीका में कोरोनावायरस का एक नया वेरिएंट मिला था, जिसके बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इसका नामकरण Omicron किया था.

Omicron नाम की क्रिप्टोकरेंसी रिकॉर्ड तेजी से चर्चा में, 3 दिनों में 50,000 का लेवल छूकर गिरी

Cryptocurrency Prices : Omicron क्रिप्टोकरेंसी में रिकॉर्ड तेजी. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एक छोटी क्रिप्टोकरेंसी दो बड़े कारणों से चर्चा में आ गई है. क्रिप्टोकरेंसी Omicron एक तो अपने नाम और दूसरे रिकॉर्ड तेजी के चलते सुर्खियां बना रही है. हालांकि, मार्केट एनालिस्ट्स ये भी कह रहे हैं कि इसके नाम के चलते ही इसमें रिकॉर्ड तेजी दर्ज हुई हुई है. कोरोनावायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के नाम वाली यह क्रिप्टोकरेंसी पिछले दिनों 10 गुना उछल गई थी. पिछले हफ्ते साउथ अफ्रीका में कोरोनावायरस का एक नया वेरिएंट मिला था, जिसके बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इसका नामकरण Omicron किया था. इसके बाद पिछले कुछ ही दिनों में इसी नाम की क्रिप्टोकरेंसी में जबरदस्त उछाल आया. मार्केट रिसर्च एजेंसी CoinMarketCap के मुताबिक, 26 नवंबर को जो इसकी कीमत 65 डॉलर यानी 4,874 रुपये थी, वो 29 नवंबर तक बढ़कर 680 डॉलर यानी 50,996 रुपये हो गई.

हालांकि, इस तेजी के बाद इसकी कीमतें लुढ़की हैं और शुक्रवार तक यह रिकॉर्ड हाई की आधी कीमत पर आ गया था. Coingecko.com के मुताबिक, शुक्रवार की दोपहर 2 बजे के आसपास इस कॉइन में 25.1% की गिरावट दर्ज हो रही थी और यह 265.97 डॉलर यानी 19,897 रुपये के लेवल पर पहुंच गया था.

CoinMarketCap का कहना है कि Omicron Cryptocurrency नवंबर की शुरुआत में ही लॉन्च हुआ था. लॉन्चिंग के बाद से इसकी कीमतें स्थिर चल रही थीं लेकिन वायरस के नए वेरिएंट का नामकरण यही होने के बाद इसकी कीमतों में वृद्धि देखी गई.

ये भी पढ़ें  : SQUID Game Crypto का Scam! निवेशकों के पैसे डूबे, स्कैमर्स ने उड़ाए 22 करोड़ रुपये

एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस कॉइन के अचानक उछलने के पीछे इसके नाम का कोरोनावायरस के नए वेरिएंट से मिलने के कारण हो सकता है. हालांकि, ये भी संयोग ही है कि WHO ने कोविड के नए वेरिएंट का नाम ग्रीक वर्णमाला के अक्षर Omicron पर रखा और इसके पहले आने वाले दो अक्षरों- Nu और XI को छोड़ दिया. जानकारी है कि WHO ने वेरिएंट का नाम Nu इसलिए नहीं रखा क्योंकि इसका उच्चारण 'new' जैसा होने से लोगों में भ्रम पैदा हो सकता था, वहीं XI इसलिए नहीं रखा गया, ताकि इस नाम की जगहों को लेकर स्टिग्मा ना पैदा हो.


CoinMarketCap ने निवेशकों को इस कॉइन की तेजी से सतर्क रहने को कहा है. एजेंसी का कहना है कि तेजी में भले ही इसने Bitcoin और Ethereum जैसे पॉपुलर कॉइन्स को पछाड़ा हो, लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि इसमें निवेश सफल होगा. इस कॉइन को लेकरे बहुत जानकारी नहीं है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस कॉइन की तेजी Squid Game Crypto की याद दिला रही है, जिसने अभी नवंबर की शुरुआत में निवेशकों को लाखों का चूना लगाया था. यह कॉइन 2,800 डॉलर या 2.10 लाख तक के रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा था, इसके बाद इसकी कीमत अचानक से क्रैश हो गई और 0.01 पर आ गई थी.