दिल्ली : शादी घर के मालिक के बेटे का अपहरण, 50 लाख रुपये की फिरौती लेकर छोड़ा

मामला अगले दिन सामने आया जब शालीमार बाग के निवासी विकास अग्रवाल ने पुलिस को मामले की जानकारी दी. शिकायत के अनुसार आरोपी ने किंशुक का फोन लेकर उसके पिता को फोन किया और उसे छोड़ने के लिये एक करोड़ रुपये मांगे.

दिल्ली : शादी घर के मालिक के बेटे का अपहरण, 50 लाख रुपये की फिरौती लेकर छोड़ा

आरोपी की पहचान और उसे पकड़ने के प्रयास जारी हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

दिल्ली के गाजीपुर इलाके में एक अज्ञात व्यक्ति ने 20 वर्षीय युवक का कथित रूप से अपहरण कर बंदूक के बल पर तीन घंटे तक उसकी कार में बंधक बनाए रखा. पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी. पुलिस ने कहा कि घटना 17 दिसंबर को हुई जब अशोक विहार में स्थित एक शादी घर के मालिक का बेटा किंशुक अग्रवाल दो अन्य लोगों के साथ काम के सिलसिले में फूल खरीदने गाजीपुर मंडी गया था. उन्होंने कहा कि एक व्यक्ति ने उसे जबरदस्ती कार में बिठाया और उसे कार चलाकर अशोक विहार इलाके की ओर ले जाने को कहा. इस दौरान वह बंदूक दिखाकर उसे धमकाता रहा.


मामला अगले दिन सामने आया जब शालीमार बाग के निवासी विकास अग्रवाल ने पुलिस को मामले की जानकारी दी. शिकायत के अनुसार आरोपी ने किंशुक का फोन लेकर उसके पिता को फोन किया और उसे छोड़ने के लिये एक करोड़ रुपये मांगे. पुलिस उपायुक्त (पूर्वी) प्रियंका कश्यप ने कहा कि विकास ने बातचीत करने की कोशिश की और आरोपी से अपने बेटे को छोड़ने का आग्रह किया. लेकिन आरोपी ने रकम नहीं देने पर उसके बेटे को जान से मारने की धमकी दी. उन्होंने कहा कि विकास अंततः अपने बेटे को छुड़वाने के लिये फिरौती के रूप में 50 लाख रुपये देने को तैयार हो गये.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अधिकारी ने कहा कि विकास अशोक विहार स्थित एक स्कूल के पास पहुंचे, जहां आरोपी ने उन्हें फिरौती की रकम देने के लिए आने को कहा था. आरोपी ने उन्हें कार के अंदर बैठने के लिए मजबूर किया, और जब वह बैठ गये तो उसने विकास से नकदी से भरा बैग ले लिया. बाद में आरोपी ने पिता-पुत्र को उसे मुकरबा चौक के पास छोड़ने का निर्देश दिया. अधिकारी ने कहा कि पीड़ित के पिता की शिकायत पर भारतीय दंड संहिता की धारा 364 और 506 तथा शस्त्र अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. घटनास्थल के आसपास लगे कैमरों की जांच की जा रही है. आरोपी की पहचान और उसे पकड़ने के प्रयास जारी हैं.