VIDEO: दिल्ली में चाकू मारकर व्यक्ति की हत्या, आरोपी केस वापस लेने का बना रहे थे दबाव

दिल्ली (Delhi) की सुंदर नगरी में एक युवक की चाकुओं से गोदकर बेरहमी से हत्या (Murder) कर दी गई. मृतक का पुराना केस चल रहा था, जिसे वापस लेने के लिए आरोपी उस पर लगातार दबाव बना रहे थे. कुछ दिन पहले लोगों ने मनीष को जान से मारने की धमकी दी थी.

नई दिल्ली:

दिल्ली (Delhi) की सुंदर नगरी में एक युवक की चाकुओं से गोदकर बेरहमी से हत्या कर दी गई. इस दौरान लोग देखते रहे, लेकिन बचाने के लिए कोई नहीं आया. पुलिस के मुताबिक, मामला पुरानी रंजिश का बताया जा रहा है. इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. हत्या की यह वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है. पुलिस के मुताबिक, यह घटना सुंदर नगरी में शाम करीब 7ः40 बजे की है. मृतक का नाम मनीष है. इस मामले में पुलिस ने आलम, बिलाल और फैजान को हिरासत में लिया है. 

घटना की सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा है कि तीन युवक मनीष को घेर लेते हैं. इस दौरान दोनों पक्षों की ओर से एक दूसरे से कुछ कहा जाता है. इसके बाद तीनों युवक मनीष पर लगातार चाकू से वार करना शुरू कर देते हैं. इस घटना के दौरान लोग रास्ते से गुजरते रहते हैं, लेकिन सभी यह वारदात होते देखते रहते हैं और मृतक को बचाने के लिए कोई कुछ नहीं करता. यहां तक की एक शख्स कुर्सी पर बैठकर यह पूरी वारदात देखता रहता है. पुलिस के मुताबिक, मनीष पर इससे पहले भी हमला किया गया था. मोहसिन और कासिम नाम के शख्स ने मनीष पर हमला किया था, जो दोनों आरोपी फिलहाल जेल में बंद हैं. 

केस वापस नहीं लेने पर मनीष को चाकुओं से गोद डाला
मनीष का गुनाह इतना था कि वह अपने खिलाफ हुए अपराध की गवाही दे रहा था.  साल भर पहले मनीष से उसका मोबाइल छीन लिया गया था और उस दौरान भी उसके ऊपर चाकू से हमले हुए थे उसकी गर्दन और पेट पर चाकू से वार किया गया था. इस मामले में पुलिस ने दो आरोपी कासिम और मोहसिन को गिरफ्तार किया था. इसके बाद से कासिम और मोहसिन के परिवार के लोग मनीष के ऊपर केस वापस लेने का लगातार दबाव बना रहे थे. आए दिन उसके परिवार को धमकी देते रहते थे. 28 सितंबर को मनीष की कोर्ट में तारीख थी और उससे पहले इन दोनों आरोपियों के परिवार के लोग मनीष के घर पहुंचे और उसको केस वापस लेने के लिए धमकाने लगे और ऐसा ना करने पर उसको जान से मारने की धमकी दी थी.

28 सितंबर को कोर्ट में दी थी गवाही 
इसके बाद मनीष ने 28 सितंबर को कोर्ट में गवाही दी जिसके ठीक तीन दिन बाद मनीष की उसके घर के बाहर ही हत्या कर दी गई. हत्या करने वाले तीन आरोपी बिलाल आलम और फैजान को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. अब पुलिस का कहना है जिन लोगों ने मनीष के घर पहुंच कर उसके परिवार को धमकी दी थी उनकी पहचान भी की जा रही है और उनकी गिरफ्तारी भी जल्द की जाएगी.

सुंदर नगरी के लोगों का कहना है कि उनके इलाके में पुलिस चौकी तो जरूर बनाई है, लेकिन यहां पर छीना झपटी चाकूबाजी की घटना आए दिन होती हैं. यहां लोगों में रोष है यहां कानून व्यवस्था को लेकर उनका कहना है कि पास में लगने वाली मुर्गा मंडी अवैध हथियार छुपाए जाते हैं और उन्हीं हथियारों के बल पर इस इलाके में छीनाझपटी, चाकूबाजी और लूट की वारदात अंजाम दी जाती है.

ये भी पढ़ेंः

* दो समूहों के बीच झड़प के बाद जामिया विश्वविद्यालय के नौ छात्र निलंबित
* दिल्ली के कृष्णा नगर इलाके में 4 मंजिला मकान में लगी आग, पति-पत्नी की मौत
* शाहरुख समेत 4 हस्तियों को राहत, ऑनलाइन गेम्‍स के प्रचार से रोके जाने संबंधी याचिका HC ने की खारिज

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

दिल्ली के सीलमपुर में यौन शोषण से मासूम की मौत, जांच के आदेश