दिल्ली: कारोबारियों से जबरन वसूली करने वाले गैंग का भंडाफोड़

गैंग ने हाल ही में एक कारोबारी से दो करोड़ की रंगदारी वसूलने की कोशिश की थी, क्राइम ब्रांच ने जाल बिछाकर पकड़ा

दिल्ली: कारोबारियों से जबरन वसूली करने वाले गैंग का भंडाफोड़

जबरन वसूली करने वाले गैंग के सदस्य पुलिस की गिरफ्त में.

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे गैंग का भंडाफोड़ किया है जो बड़े-बड़े कारोबारियों से जबरन वसूली करते थे. इन लोगों ने हाल ही में एक कारोबारी से दो करोड़ की रंगदारी वसूलने की कोशिश की थी. लेकिन इसी बीच क्राइम ब्रांच ने जाल बिछाकर गैंग के दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया. 

क्राइम ब्रांच के एडिशनल कमिश्नर शिबेश सिंह के मुताबिक " एक मार्च को एक कारोबारी ने शिकायत देकर कहा कि उसे 23 जनवरी को सुबह 9 बजे एक शख्स ने फोन किया और अपने आप को तिहाड़ जेल में बंद सत्ती गैंगस्टर बताया, उसने धमकी देते हुए कहा कि दो दिन के अंदर उसको दो करोड़ रुपए पहुंचा दिए जाएं. नहीं तो जान से हाथ धोना पड़ सकता है. 


इसके बाद उसी दिन एक ऐसा ही कॉल शाम को 5 बजे आया. पुलिस ने केस दर्ज कर जांच के बाद उत्तम नगर से सतीश कुमार नाम के शख्स को पकड़ा, उसके मोबाइल के कॉल रिकॉर्ड से पता चला कि रंगदारी की कॉल दीपक सहरावत कर रहा था. पुलिस ने दीपक सहरावत को भी उसके घर से गिरफ्तार कर लिया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


जांच में पता चला कि दोनों पहले केमिस्ट शॉप में काम करते थे. लेकिन जल्दी पैसा कमाने की लालच में दोनों ने दो मोबाइल और दो सिम लिए, सिम कार्ड इलाहाबाद से लिए गए. उसके बाद दीपक सहरावत ने तिहाड़ जेल के पास खड़े होकर, खुद को गैंगस्टर सत्ती बताते हुए व्यापारी को फोन किया और दो करोड़ कि रंगदारी मांगी, पुलिस ने इनके पास से चार मोबाइल फोन और सिम बरामद कर लिए हैं.