मांजरेकर ने T20 World Cup टीम के इस खिलाड़ी पर उठा दी उंगली, पूर्व बल्लेबाज बोले कि...

T20 World cup: विश्व कप से करीब महीने भर पहले ही भारतीय पूर्व दिग्गजों के बढ़ते सवाल कोई अच्छे संकेत नहीं हैं

मांजरेकर ने T20 World Cup टीम के इस खिलाड़ी पर उठा दी उंगली, पूर्व बल्लेबाज बोले कि...

भारतीय पूर्व बल्लेबाज और स्टार कमेंटेटरों में से एक संजय मांजरेकर

खास बातें

  • अगर ऑस्ट्रेलिया में ऐसे हालात मिले तो...
  • कहीं मांजरेकर की बात सच न साबित हो!
  • पूर्व दिग्गजों के लगातार बढ़ते सवाल..
नई दिल्ली:

टी20 विश्व कप नजदीक आ रहा है, लेकिन उससे पहले ही भारतीय पूर्व दिग्गजों के सवाल जरूर बढ़ते जा रहे हैं. गावस्कर किसी बात को लेकर सवाल कर रहे हैं, तो शास्त्री किसी और बात से खफा हैं. और अब संजय माजंकरे ने मेगा इवेंट के लिए चुन गए भारतीय टीम के सदस्य पर ही सवाल खड़ा कर दिया है. हालांकि, इसके लिए उन्होंने परिस्थिति को आधार बनाया है. मांजरेकर ने ऑस्ट्रेलियाई परिस्थितियों में हर्षल के असर पर संदेह जारी किया है. उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया की उछाल भरी पिचों पर हर्षल की स्लोअर-वन गेंदें रन रोकने के लिए प्रभावी अस्त्र नहीं हैं. 

यह भी पढ़ें:  जसप्रीत बुमहाह की फिटनेस पर अभी भी सवाल, क्या सोच रहा है भारतीय टीम मैनेजमेंट?

हर्षल पिछले दिनों ही चोट से उबरने के बाद भारतीय टी20 टीम में लौटे थे. इस लंबे और धीमी गति के विशेषज्ञ पेसर ने पिछले साल आईपीएल में रिकॉर्ड की बराबरी करते और पर्पल कैप जीतते हुए 32 विकेट हासिल किए थे. भारत के लिए खेले 18 टी20 मैचों में हर्षल 23 विकेट चटका चुके हैं. लेकिन वापसी के बाद खेले पहले मैच में पटेल ने चार ओवरों में 49 रन लुटाए. 


इसी पर मांजरेकर ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि हर्षल को हम सालों से देख चके हैं. हम उन्हें आईपीएल में भी देख चुके हैं. हर्षल उन पिचों पर असरदार होते हैं, जो सूखी होती हैं. इन पिचों पर उनकी धीमी गेंद वास्तव में और धीमी हो जाती हैं और इन्हें खेलना मुश्किल हो जाता है.  वैसे हर्षल को ऑस्ट्रेलिया की जमीं पर अभी भी क्रिकेट खेलनी बाकी है. इस साल जब वह ऑयरलैंड में खेले थे, तो उन्होंने 4 ओवरों में 54 रन लुटा दिए थे. इस साल उन्होंने प्रति ओवर 9 रन दिए, लेकिन विकेट चटकाने की काबिलियत के कारण मैनेजमेंट ने उन पर विश्व कप के लिए भरोसा बनाए रखा. 

मांजरेकर ने कहा कि पिछली बार हर्षल की धीमी गति की गेंद 120 किमी/घंटा की रफ्तार से जा रही थीं. ऐसे में गति में ज्यादा गिरावट नहीं है. लेकिन अगर अगर पिछ फ्लैट, बाउंसी और गतिमान है, तो ऐसे में पटेल चिंता का विषय बन जाते हैं. ऑस्ट्रेलिया में कुछ ऐसी ही पिचें देखने को मिलेंगी.  यह एक अलग बात है कि भारतीय मैनेजमेंट को ऑस्ट्रेलिया में हर्षल के कौशल के बारे में जानकारी होगी. 

यह भी पढ़ें:

विराट कोहली के साथ खास चर्चा करते नज़र आए दिल्ली बॉय अशनीर ग्रोवर, देखिए Photos

“यहीं पर धोनी बेस्ट थे....” भारत की हार के बाद रवि शास्त्री ने उठाए सवाल 

Women's Asia Cup 2022: भारतीय महिला क्रिकेट टीम का हुआ एलान, जानिए टीम इंडिया का पूरा शेड्यूल

VIDEO: बाकी खबरों से जुड़े वीडियो देखने के लिए हमारा YOU-TUBE चैनल सब्सक्राइब करें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com