कोरोना से जंग के लिए आए Sachin Tendulkar, "मिशन ऑक्सीजन" एनजीओ में डोनेट किए 1 करोड़ रुपये

कोरोना वायरस (Covid-19) के बढ़ते मामले के कारण पूरे देश में ऑक्सीजन और बेड की किल्लत बहुत ज्यादा है, ऐसे में पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने मदद के लिए अपना हाथ बढ़ाया है. तेंदुलकर ने भारत के अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत को दूर करने के लिए "मिशन ऑक्सीजन" (Mission Oxygen) में दान देने की घोषणा की है.

कोरोना से जंग के लिए आए Sachin Tendulkar,

कोरोना से जंग के लिए आए Sachin Tendulkar, ऑक्सीजन की आपूर्ती के लिए डोनेट किए 1 करोड़ रुपये

कोरोना वायरस (Covid-19) के बढ़ते मामले के कारण पूरे देश में ऑक्सीजन और बेड की किल्लत बहुत ज्यादा है, ऐसे में पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने मदद के लिए अपना हाथ बढ़ाया है. तेंदुलकर ने भारत के अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत को दूर करने के लिए "मिशन ऑक्सीजन" (Mission Oxygen) नाम के एक एनजीओ में दान देने की घोषणा की है. तेंदुलकर ने सोशल मीडिया पर मैसेज शेयर कर इस बात की जानकारी दी है. सचिन ने अपने ट्वीट में बताया है कि वो "मिशन ऑक्सीजन" नामक संस्था में अपनी ओर से मदद कर रहे हैं. यह संस्था देश भर के अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ती के लिए फंड इकट्ठा करेगा और अस्पतालो में ऑक्सीजन  की किल्लतों को दूर करने में मदद करेगा. इसके अलावा सचिन ने नागरिकों से कोविड -19 (COVID-19) के खिलाफ लड़ाई में "एक साथ" खड़े होने का आग्रह किया, बता दें कि वायरस की इस दूसरी लहर ने देश को तबाह कर दिया है.

MI vs RR: राहुल चाहर ने लड्डू गेंद पर बल्लेबाज को किया आउट, देखकर गेंदबाज की मंगेतर की छूट गई हंसी, देखें Video

वहीं "मिशन ऑक्सीजन" की ओर से भी सचिन के डोनेशन को लेकर ट्वीट किया है.  "मिशन ऑक्सीजन" ने अपने ट्वीट में लिखा है कि सचिन ने कोरोना की लड़ाई 1 करोड़ रूपये का दान दिया है. गौरतलब है कि तेंदुलकर कुछ समय पहले ही कोरोना वायरस के शिकार हुए थे. 

IPL 2021: राजस्थान रॉयल्स ने मदद को बढ़ाया हाथ, COVID रिलीफ फंड में दान में दिए 7.5 करोड़ रूपये


कोरोना वायरस से उबरकर सचिन ने फैन्स को मैसेज दिय़ा था और कहा था कि वो अपना प्लाजमा डोनेट करेंगे. तेंदुलकर ने सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर करते हुए कहा था, 'मैं एक संदेश देना चाहूंगा जिसे चिकित्सकों ने मुझे देने के लिए कहा है. मैंने प्लाज्मा दान केंद्र का उद्घाटन किया था और उनका संदेश था, यदि सही समय पर प्लाज्मा दिया जाता है तो रोगी जल्दी ठीक हो सकता है. मैं निजी तौर पर जब योग्य हो जाऊंगा तब इसे दान करूंगा और मैंने अपने चिकित्सकों से बात की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com