PBKS vs DC: पंजाब को 7 विकेट से हराकर दिल्ली कैपिटल्स प्वाइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंचे

PBKS vs DC: पंजाब की हार के बावजूद नाबाद 99 रन की पारी खेलने वाले मयंक अग्रवाल को मैन ऑफ द मैच चुना गया. इस जीत के  बाद दिल्ली की टीम चेन्नई को प्वाइंट्स टेबल में खिसकाकर नंबर एक पायदान पर पहुंच गयी है. आठ में से छह मैचों में जीत के बाद दिल्ली के 12 प्वाइंट्स हैं, जबकि चेन्नई के सात में से पांच मैचों में जीत के साथ दस  अंक हैं. 

PBKS vs DC: पंजाब  को 7 विकेट से हराकर दिल्ली कैपिटल्स प्वाइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंचे

PBKS vs DC: धवन किसी न किसी मैच में दिल्ली के लिए जिम्मेदारी भरी पारी खेल रहे हैं

अहमदाबाद:

जारी इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) में रविवार के दूसरे मुकाबले में अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम (Narendra Modi Stadium) में दिल्ली कैपिटल्स ने पंंजाब किंग्स को 7 विकेट से हरा दिया. जो काम पंजाब के लिए मयंक अग्रवाल ने किया था, लगभग वैसा ही काम दिल्ली के लिए शिखर धवन ने किया, जो आखिर तक नाबाद रहे और अपनी टीम को 17.4 ओवरों में 3 विकेट पर 167 का लक्ष्य दिलाकर वापस लौटे. इससे पहले धवन ने  पृथ्वी शॉ  के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 63 रन जोड़े. इस साझेदारी ने दिल्ली कैपिटल्स की जीत को आसान बनाने का काम किया. पावर-प्ले के शुरुआती छह ओवरों में जोड़े यह 63 रन का ही असर था कि बाद में सस्ते में गिरे विकेटों का दिल्ली पर रत्ती भर भी असर नहीं पड़ा और उसने 14 गेंद बाकी रहते लक्ष्य हासिल कर लिया.  पंजाब की हार के बावजूद नाबाद 99 रन की पारी खेलने वाले मयंक अग्रवाल को मैन ऑफ द मैच चुना गया. इस जीत के  बाद दिल्ली की टीम चेन्नई को प्वाइंट्स टेबल में खिसकाकर नंबर एक पायदान पर पहुंच गयी है. आठ में से छह मैचों में जीत के बाद दिल्ली के 12 प्वाइंट्स हैं, जबकि चेन्नई के सात में से पांच मैचों में जीत के साथ दस  अंक हैं. 

SCORE BOARD

पावर-प्ले (शुरुआती 6 ओवर): यह पृथ्वी की पावर है!
जिस फॉर्म में इन दिनों पृथ्वी शॉ हैं, शायद उनकी फॉर्म और कॉन्फिडेंस पिच के आचार-बर्ताव से ऊपर उठकर बात कर रहा है. मेरेडिथ के पहले ओवर में सिंगल्स-डबल्स से नौ रन निकले, लेकिन अगले ही ओवर में शमी को निशाना बना दिया. टॉप ऐज से छक्का और फिर लगाता दो चौके. ओवर में आए 15 रन. मेरेडिथ इस बार और सधी हुयी लंबाई और दिशा का परिचय देते हुए तीसरे ओवर में रन सिर्फ तीन ही दिए. पर शमी फिर आए, तो हाथ खोलने की जिम्मा इस बार धवन ने अपने कंधों पर लेते हुए दो चौके जड़ डाले. 

अगला ओवर लेकर लेग स्पिर रवि बिश्नोई आए, तो उनका स्वागत भी पृथ्वी ने पहली ही गेंद पर छक्का जड़कर किया. पर सबसे मार पड़ी आखिरी ओवर में क्रिस जॉर्डन को. पावर-प्ले में मयंक की अलग-अलग बॉलरों को इस्तेमाल करने की नीति फ्लॉप हो गयी. जॉर्डन ने एक छक्का व चौका पृथ्वी से खाया, तो एक चौका निकाला धवन ने. ओवर में बटोरे 17 रन के साथ ही पावर-प्ले में दोनों ओपरों ने स्कोर को दस रन प्रति ओवर से ज्यादा की दर से बिना नुकसान के 63 रन पर पहुंचा दिया. और शॉ ने दिखा दिया कि यह पृथ्वी की पावर है.

पहले सेशन में न्योता पाने के बाद पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली कैपिटल्स के सामने जीत के लिए 167 रन का लक्ष्य रखा है. पंजाब को यहां तक पहुंचाने में कार्यवाहक कप्तान मयंक अग्रवाल (नाबाद 99 रन, 58 गेंद, 8 चौके, 4 छक्के) का बड़ा योगदान रहा, जिन्होंने पारी की शुरुआत करते हुए एक थोड़ी मुश्किल पिच पर आखिर तक बिना आउट हुए एक बेहतरीन पारी खेली. बस थोड़ा दुर्भााग्य उनके साथ यह रहा कि मयंक की सुयीं 99 पर अटक कर रह गयी और वह अपना शतक पूरा नहीं कर सके. बहरहाल, उन्होंने अपने काम को बखूबी अंजाम दिया और पंजाब के स्कोर को कोटे के 20 ओवरों में 6 विकेट पर 166 रनों तक पहुंचा दिया. स्कोरबोर्ड पर नजर डालने पर एक मयंक ही दिखाई पड़ते हैं. उनके  अलावा कोई दूसरा बल्लेबाज उपयोगी पारी खेलने में नाकाम रहा. बड़ी चर्चाओं में रहे शाहरुख खान ने फिर से मिले एक और मौके को जाया कर दिया और वह पांचवें  विकेट के रूप में आउट हुए. दूसरे स्पेल में आए आवेश खान ने शाहरुख के अरमान सिर्फ चार रन पर ही रोक दिए.पंजाब के लिए पारी का 14वां ओवर जान का दुश्मन बनकर आया. पहले अक्षर पटेल ने जम चुके डेविड मलान को आउट किया, तो फिर दीपक हूडा भी इसी ओवर में रन आउट होकर पंजाब की मुश्किलें बढ़ा गए. इससे पहले दूसरे विकेट के रूप क्रिस गेल आउट हुए, जिन्होंने एक छक्के और चौके से 13 रन बनाकर ट्रेलर दिखाया कि वह इस मैच में बड़ी पारी खेलने जा रहे हैं, लेकिन कैगिसो रबाडा ने अपना दूसरा विकेट चटकाते हुए पंजाब किंग्स की पावर को बड़ा झटका दिया. इससे पहले पंजाब ने सिमरनजीत सिंह का पहला विकेट गंवाया, जो 12 रन बनाकर रबाडा का शिकार हो गए. और रबाडा ने जो झटका देने की शुरुआत की थी वह उन्होंने आगे भी जारी रखी और वह दिल्ली के लिए तीन विकेट चटकाकर सबसे सफल गेंदबाज रहे. 

पावर-प्ले (शुरुआती 6 ओवर): पंजाब की पावर पस्त, रबाडा मस्त
दिल्ली ने टॉस जीतकर ऐसी पिच पर पहले गेंदबाजी चुनी, जहां बल्लेबाजी आसान नहीं थी. स्ट्रोक को बल्ले पर एकदम से लेना आसान नहीं था, तो केएल राहुल के न होने का दबाव भी समझा जा सकता था. ये मिले-जुले कारण रहे कि शुरुआती ओवरों में मयक और प्रभसिमरन सिंह शांत रहे. तीसरे ओवर में इशांत को प्रभसिमरन ने  छक्का जड़कर हाथ खोलने की कोशिश जरूर की, लेकिन अगले ही ओवर में रबाडा ने उन्हें स्मिथ के हाथों लपकवा शांत कर दिया. आवेश खान के अगले ओवर में मयंक और गेल ने एक-एक चौका जड़ा, तो लगा कि पंजाब पावर-प्ले को पूरी तरह से भुनाने के मूड में हैं. गेल ने छठे ओवर की पहली गेंद पर रबाडा को छक्का जड़कर अपने इरादों को और हवा दी, लेकिन दूसरी ही गेंद पर गेल बड़े अटपटे अंदाज में ऐसे बोल्ड हो गए कि मानो उन्हें गेंद ही न दिखायी दी हो. यह पंजाब के पावर-प्ले और पावर के लिए बड़ा झटका रहा. पंजाब बैकफुट पर आ गया और उसने शुरुआती छह ओवरों में बनाए 2 विकेट पर 39 रन. सतर्क और आक्रामक दोनों रवैये से पंजाब के लिए आदर्श स्कोर नहीं था. रबाडा ने उसके पावर-प्ले को भुनाने के इरादों को पस्त कर दिया.

इससे पहले दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया. और यह फैसला बिल्कुल सटीकता के साथ मैच के परिणाम को देखते हुए सही साबित हुआ. वहीं, मैच से पहले पंजाब को बहुत ही बड़ा झटका लगा, जब उसके नियमित कप्तान केएल राहुल (पढ़िए पूरी स्टोरी केएल राहुल के बाहर होने की) पेट में दर्द के कारण मैच से बाहर हो गए और उनकी बहुत ज्यादा कमी टीम को खली. टीम का संयोजन एकदम से गड़बड़ हो गया. चलिए अब दोनों टीमों की फाइनल इलेवन पर गौर फरमा लें:

दिल्ली कैपिटल्स: 1. ऋषभ पंत (कप्तान) 2. पृथ्वी शॉ 3. शिखर धवन 4. स्टीव स्मिथ 5. मारकस स्टोइनिस 6. शिमरोन हेटमायर 7. अक्षर पटेल 8. ललित यादव 9. कैगिसो रबाडा 10. आवेश खान 11. इशांत शर्मा


पंजाब किंग्स: 1. मयंक अग्रवाल (कप्तान) 2. प्रभसिमरन सिंह 3. क्रिस गेल 4. डेविड मलान 5. दीपक हूडा 6. शाहरुख खान 7. हरप्रीत बरार 8. क्रिस जॉर्डन 8. रिले मेरेडिथ 10. रवि बिश्नोई 11. मोहम्मद शमी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले मिनी ऑक्शन में कृष्णप्पा गौतम 9.25 करोड़ में बिके थे. ​