Ind vs Eng 4th Test: "ये 2 सबसे बड़ी वजह रहीं इंग्लैंड की हार की", पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने की टीम इंडिया की जमकर तारीफ

Ind vs Eng 4th Test: नासिर हुसैन ही नहीं, बल्कि इंग्लैंड के तमाम पूर्व दिग्गज सीरीज गंवाते ही एकदम से बैकफुट पर आ गए हैं

Ind vs Eng 4th Test:

नई दिल्ली:

रांची में सोमवार को टेस्ट सीरीज में 3-1 की अजेय बढ़त लेकर सीरीज अपने पक्ष में सुनिश्चत करने वाले टीम इंडिया को अब इंग्लैंड के पूर्व दिग्गजों से भी प्रशंसा मिलनी शुरू हो गई है. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन (Nasser Hussain) ने रांची में सोमवार को टेस्ट सीरीज जीतने वाले टीम इंडिया की तारीफ की है. सोमवार को भारत ने रांची में चौथे टेस्ट के चौथे दिन इंग्लैंड को 5 विकेट से हराकर करोड़ों भारतीय प्रशंसकों का दिल बाग-बाग कर दिया. वहीं, पूर्व कप्तान ने उन दो सबसे बड़े कारणों के बारे में भी बताया, जो इंग्लैंड की हार का सबब बने.

यह भी पढ़ें:

Rohit Sharma: "हम जो करना चाहते थे...", रांची टेस्ट में जीत के बाद कप्तान रोहित ने भरी हुंकार, बयान ने मचाई इंग्लैंड टीम में खलबली


Watch: "यह हार्दिक और इशान के  लिए...", जीत के बाद रोहित ने कह दी बड़ी बात, फैंस को एकदम समझ आ गई

स्काई स्पोर्ट्स पर कमेंट्री कर रहे पूर्व कप्तान ने कहा कि टीम इंडिया उस तमाम श्रेय की हकदार है, जो उसे जीत के बाद मिल रहा है. मैं सोचता हूं कि आपको भारत को श्रेय देना होगा. इस टीम के पास केवल क्षमता ही नहीं, बल्कि मानसिक मजबूती भी है. कई मुख्य खिलाड़ियों की अनुपस्थिति के बावजूद जिस तरह से मेजबान देश ने एक और सीरीज जीती है, वह और उनका रिकॉर्ड बहुत ही शानदार है. 

पूर्व कप्तान ने कहा कि इस हार से इंग्लैंड को हतोत्साहित नहीं होना चाहिए. और मेहमान टीम को अपना पूरा ध्यान अपने खेल की बेहतरीन पर लगाना चाहिए. उन्होंने कहा कि इस भारतीय टीम से हारने में कोई शर्म नहीं है, लेकिन किसी भी बाकी दूसरी सीरीज या टेस्ट की तरह आपको उन क्षेत्रों की पहचान करनी होगी, जहां मैच आपके हाथ से निकल गया. 

नासिर ने हार की वजह बताते हुए कहा कि मैच के तीसरे दिन जो बढ़त 100 रन की हो सकती थी, वह सिमट कर 46 रन गई. और आप तीसरी पारी में यह भी नहीं जान पाए कि आपको पिच पर टिकना है, या अटैक करना है. पूर्व कप्तान ने कहा कि विकेटों की पतझड़ में इंग्लैंड ने 26 ओवर बैटिंग की और 35 रन बनाने में 5 विकेट गंवाए. यह एक रन प्रति ओवर की दर से थोड़ा ज्यादा रहा. यह बताने के लिए काफी है कि उन्हें मालूम ही नहीं था कि पिच पर टिकना है या अटैक करना है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com