एक घंटे में खाकर खत्म करिए 7 किलो की थाली, अगर पूरा कर सकते हैं ये चैलेंज, तो इस रेस्टोरेंट में आपका स्वागत है

24 इंच की थाली में 7 किग्रा से अधिक वजन वाले 50 व्यंजन परोसे जाते हैं. यह ग्रेटर मैनचेस्टर के एश्टन में रेस्तरां में ग्रैंड थाली चैलेंज का केंद्र है. चैलेंज है एक घंटे में इस पूरी थाली को खत्म करना.

एक घंटे में खाकर खत्म करिए 7 किलो की थाली, अगर पूरा कर सकते हैं ये चैलेंज, तो इस रेस्टोरेंट में आपका स्वागत है

एक घंटे में खाकर खत्म करिए 7 किलो की थाली, अगर पूरा कर सकते हैं ये चैलेंज, तो इस रेस्टोरेंट में आपका स्वागत है

अगर आप खाने शौकीन हैं और एकसाथ ढेर सारे पकवान खाने की हिम्मत रखते हैं, तो इंग्लैंड का ये भारतीय रेस्तरां आपके लिए एकदम सही जगह हो सकता है. लिलीज वेजिटेरियन इंडियन कुजीन नाम का रेस्तरां "ग्रैंड थाली" सर्व कर रहा है और इसके साथ एक चैलेंज भी है. 24 इंच की थाली में 7 किग्रा से अधिक वजन वाले 50 व्यंजन परोसे जाते हैं. यह ग्रेटर मैनचेस्टर के एश्टन में रेस्तरां में ग्रैंड थाली चैलेंज का केंद्र है. चैलेंज है एक घंटे में इस पूरी थाली को खत्म करना.

यह चैलेंज कमजोर दिल वालों के लिए बिल्कुल नहीं है. फ़ेसबुक पर शेयर की गई एक फोटो में  हम आठ प्रकार की रोटियाँ, तीन प्रकार के चावल, सोलह करी और सब्ज़ी,  छह मिठाइयाँ, दो लस्सी और दो नमकीन स्नैक्स जैसे व्यंजनों को इस थाली में हम देख सकते हैं. और इस थाली की कीमत है 3,611 रुपये.

खबरों के मुताबिक, अबतक कई लोग इस चैलेंज को स्वीकर कर चुके हैं, लेकिन कोई भी चैलेंज को पूरा नहीं कर सका. जिसमें से एक शख्स ने तो 3 किलोग्राम खाने के बाद ही हार मान ली.  चैलेंज के बाद, ड्रेनन ने एक फेसबुक पोस्ट में अपना अनुभव शेयर किया. उन्होंने कहा, “आज प्रोत्साहन और समर्थन भेजने वाले सभी लोगों को धन्यवाद. हमने लिली के शाकाहारी भारतीय भोजन में आज की थाली चैलेंज में हिस्सा लिया. लेकिन एंडी वेस्टर्न और मैंने पिछले रिकॉर्ड को हराया और अच्छा प्रदर्शन किया. यह बहुत स्वादिष्ट था. वैसे तो कोई भी खाना बर्बाद नहीं हुआ।”

इस बारे में बात करते हुए कि उन्हें चैलेंज का विचार कैसे आया, रेस्तरां के मालिक प्रीतिल सचदेव ने कहा, “मैं अभी एक दिन इसके साथ आया था जब मैं रेस्तरां में बैठा था. यह पहली चुनौती है जिसे हमने किया है लेकिन हमने सोचा कि यह मजेदार होगा.

एक पोस्ट में, रेस्तरां ने कहा, कि चुनौती के बाद कोई भी व्यंजन बेकार नहीं गया था. उन्होंने लिखा, “सभी प्रतिभागी अपनी मर्जी से आते हैं और उस भोजन को घर ले जाते हैं जिसे वे दिए गए समय में समाप्त करने में कामयाब नहीं हुए. वे इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ बांट सकते हैं, इसलिए कृपया निश्चिंत रहें कि कोई खाना बर्बाद नहीं हो रहा है. ”


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com