इजरायल के मंत्री "गाजा पर परमाणु हमला" करना चाहते थे : पीएम नेतन्याहू

मंत्री अमिहाई एलियाहू ने गाजा में मानवीय सहायता की अनुमति देने के खिलाफ अपनी आपत्ति जताते हुए कहा, "हम नाजियों को मानवीय सहायता नहीं देंगे."

इजरायल के मंत्री

नई दिल्ली:

Israel Hamas War: इज़राइल के प्रधान मंत्री ने अपने मंत्री के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. जिन्होंने कहा कि गाजा पर "परमाणु बम गिराना" भी हमास के खिलाफ चल रहे युद्ध में एक विकल्प है. इज़रायल के धुर दक्षिणपंथी नेता और मंत्री अमिहाई एलियाहू से रेडियो कोल बेरामा के साथ एक इंटरव्यू में पूछा गया कि क्या गाजा पर परमाणु बम गिराया जाना चाहिए, जिस पर एलियाहू ने कहा, "यह संभावनाओं में से एक है."

गाजा में मानवीय सहायता के भी खिलाफ थे मंत्री

टाइम्स ऑफ इजरायल की रिपोर्ट के अनुसार जिस मंत्री को नेतन्याहू ने निलंबित कर दिया है, वह 7 अक्टूबर के क्रूर हमलों के बाद इजरायल द्वारा हमास के खिलाफ युद्ध की घोषणा के बाद गठित सुरक्षा कैबिनेट का हिस्सा नहीं थे. रिपोर्ट में कहा गया है कि मंत्री ने गाजा में मानवीय सहायता की अनुमति देने के खिलाफ भी अपनी आपत्ति जताई थी और कहा था कि हम नाजियों को मानवीय सहायता नहीं देंगे.

हम अंतरराष्ट्रीय कानून के अनुसार काम कर रहे हैं:  नेतन्याहू 

प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि मंत्री के बयान "वास्तविकता पर आधारित नहीं हैं" और "इजरायली रक्षा बल (आईडीएफ) निर्दोष लोगों को नुकसान पहुंचाने से बचने के लिए अंतरराष्ट्रीय कानून के उच्चतम मानकों के अनुसार काम कर रहे हैं. हम अपनी जीत तक ऐसा जारी रखेंगे.

इस बीच,  एलियाहू ने गाजा पर परमाणु बम गिराने के बारे में अपने बयान को स्पष्ट किया और कहा, "सभी समझदार लोगों के लिए यह स्पष्ट है कि परमाणु के बारे में बयान प्रतीकात्मक है. हालांकि, आतंकवाद के लिए एक मजबूत प्रतिक्रिया निश्चित रूप से आवश्यक है, जो नाज़ियों और उनके समर्थकों को स्पष्ट कर देंगे कि आतंकवाद सार्थक नहीं है. उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट है कि इज़राइल बंधकों को सुरक्षित और स्वस्थ वापस लाने के लिए हर संभव प्रयास करने के लिए प्रतिबद्ध है.

US विदेश मंत्री झेल रहे अरब नेताओं का गुस्सा

हमास से जारी युद्ध के बीच इजरायल (Israel Gaza War) ने शनिवार देर रात मध्य गाजा में एक शरणार्थी शिविर पर एयर स्ट्राइक कर दी थी, इसमें 30 से ज्यादा लोग मारे गए. इज़रायली सेना और हमास के बीच हमले लगातार जारी हैं लेकिन फिर भी तनाव कम होता फिलहाल तो नहीं दिख रहा है. राजनयिक दौरे के लिए मध्य पूर्व में मौजूद अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन को अरब नेताओं के साथ बैठकों में नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है.एंटनी ब्लिंकन ने जोर देते हुए कहा कि अमेरिका गाजा में नागरिकों की मौत को रोकने के लिए झड़पों और बमबारी में "मानवीय विराम" का समर्थन करता है, हालांकि, इज़रायल के प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने युद्धविराम की किसी भी गुंजाइश से इनकार किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये भी पढ़ें- :