दिल्ली में इस समय WHO की तय सीमा से लगभग 100 गुणा ज्यादा है प्रदूषण

अगर बात PM 2.5 के स्तर की करें तो दिल्ली-एनसीआर में मौजूदा समय में ये WHO द्वारा तय मानक से 96.2 गुणा ज्यादा है. 

नई दिल्ली:

दिल्ली में प्रदूषण एक बड़ी समस्या बना हुआ है. दिल्ली और एनसीआर के ऐसे कई इलाके हैं जहां हवा की गुणवत्ता यानी AQI करीब 500 या कई जगहों पर इससे भी ज्यादा पहुंच गई है. दिल्ली में प्रदूषण का स्तर कितना खतरनाक है, इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि यह विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की तय सीमा से करीब 100 गुणा ज्यादा है. रविवार की दोपहर दिल्ली के वजीरपुर इलाके में AQI का स्तर 859 आंका गया. जो बेहद खतरनाक स्तर माना जाता है. अगर बात PM 2.5 के स्तर की करें तो दिल्ली-एनसीआर में मौजूदा समय में ये WHO द्वारा तय मानक से 96.2 गुणा ज्यादा है. 

प्रदूषण के कारण स्कूल किए गए बंद

गौरतलब है कि दिल्ली में प्रदूषण के बढ़ते स्तर को देखते हुए राज्य सरकार ने 5वीं तक के सभी स्कूल 10 नवंबर तक बंद किये जाने का निर्णय दिल्‍ली सरकार ने लिया है. हालांकि 6-12 वीं तक के स्कूलों को कोई आदेश नहीं दिया गया है, लेकिन उनको विकल्प दिया गया है कि वे चाहें तो ऑनलाइन क्लास चला सकते हैं. इस बारे में दिल्ली की शिक्षा मंत्री आतिशी ने जानकारी दी. दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के मद्देनज़र 5 नवंबर तक पांचवीं तक के स्कूल बंद किए गए थे. अब इसे बढ़ाकर 10 नवंबर कर दिया गया है.

मंत्री गोपाल राय ने दिया बयान

बता दें कि दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने वायु प्रदूषण में लगातार हो रही बढ़ोतरी के बीच रविवार को कहा कि पंजाब में जलने वाली पराली का राष्ट्रीय राजधानी पर उतना प्रभाव नहीं पड़ता जितना हरियाणा और उत्तर प्रदेश में खेतों की आग से निकलने वाले धुएं का पड़ता है. आप नेता ने कहा कि केंद्र के आंकड़ों के मुताबिक, पंजाब में पराली जलाने के मामले कम हो गए हैं.

गोपाल राय ने कहा, "केंद्र सरकार के आंकड़े बताते हैं कि पिछले साल की तुलना में इस साल पंजाब में कम पराली जलाई गई है. पंजाब की पराली के धुएं का दिल्ली पर उतना असर नहीं है जितना हरियाणा और उत्तर प्रदेश पर. ऐसा इसलिए क्योंकि हवा में कोई हलचल नहीं है." उन्होंने कहा, ''हवा चलेगी तो ही पंजाब का धुआं दिल्ली पहुंचेगा. अभी दिल्ली के चारों तरफ धुआं है. हरियाणा और उत्तर प्रदेश से पराली का धुआं दिल्ली पहुंच रहा है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में दिल्ली टॉप पर
नई दिल्ली जहरीली धुंध की मोटी परत में लिपटी हुई है. यहां, हवा की गुणवत्ता लगातार "गंभीर श्रेणी" में बनी हुई है.स्विस ग्रुप IQAir के आंकड़ों के अनुसार, कोलकाता और मुंबई के साथ राजधानी  दिल्ली आज दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में से एक है. आज सुबह 7.30 बजे 483 एक्यूआई के साथ नई दिल्ली फिर से रियल टाइम लिस्ट में टॉप पर रही, इसके बाद लाहौर 371 पर रहा.वहीं,  कोलकाता और मुंबई भी क्रमशः 206 और 162 एक्यूआई के साथ वायु प्रदूषण से सबसे ज्यादा प्रभावित 5 शहरों में शामिल रहे.