भारतीय गेहूं को पाकिस्तान से गुजरने देने के अफगानिस्तान के अनुरोध पर विचार करेंगेः इमरान खान

भारत ने अफगान लोगों को नवीय मदद देने में योगदान दिया है. इसमें पिछले दशक से लेकर अब तक अफगानिस्तान को 10 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं देना भी शामिल है. 

भारतीय गेहूं को पाकिस्तान से गुजरने देने के अफगानिस्तान के अनुरोध पर विचार करेंगेः इमरान खान

खान ने कहा कि हम अपने अफगान भाइयों के अनुरोध पर विचार करेंगे. (फाइल)

इस्लामाबाद:

इमरान खान (Imran Khan) ने शुक्रवार को कहा कि वह पाकिस्तान (Pakistan) के जरिए भारतीय गेहूं (Indian Wheat) के पारगमन को अनुमति देने के अफगानिस्तान (Afghanistan) के अनुरोध पर विचार करेंगे और उन्होंने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से युद्धग्रस्त देश के लोगों के सामने आ रहे मानवीय संकट को रोकने के लिए अपनी सामूहिक जिम्मेदारी निभाने का आग्रह किया. उनकी ये टिप्पणियां तब आई है जब अफगानिस्तान के विदेश मंत्री आमिर खान मुत्तकी अपनी पहली विदेश यात्रा पर बुधवार को यहां पहुंचे और वह 20 सदस्यीय उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे हैं. 

खान ने कहा, ‘‘हम भारतीय गेहूं को पाकिस्तान के जरिए जाने देने के अपने अफगान भाइयों के अनुरोध पर भी विचार करेंगे.''

प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री ने यह बताया कि मौजूदा संदर्भ में पाकिस्तान, भारत द्वारा दिए गए गेहूं को मानवीय उद्देश्यों के लिए असाधारण आधार पर पाकिस्तान से गुजरने देने के अफगान भाइयों के अनुरोध पर विचार करेगा.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


भारत ने अफगान लोगों की मानवीय मदद देने में योगदान दिया है. इसमें पिछले दशक से लेकर अब तक अफगानिस्तान को 10 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं देना भी शामिल है.