ब्रिटेन की अदालत में भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण पर सुनवाई सात सिंतबर से...

ब्रिटेन की अदालत में सोमवार को भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी (Nirav Modi,) के प्रत्यर्पण (Extradition) के मुकदमे की दूसरे चरण की सुनवाई शुरू होगी और वह वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पेश होगा.

ब्रिटेन की अदालत में भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी के प्रत्यर्पण पर सुनवाई सात सिंतबर से...

धन शोधन के मामले में भी भारत में 49 वर्षीय हीरा व्यापारी नीरव मोदी के खिलाफ मुकदमा दर्ज है

लंदन:

ब्रिटेन की अदालत में सोमवार को भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी (Nirav Modi,) के प्रत्यर्पण (Extradition) के मुकदमे की दूसरे चरण की सुनवाई शुरू होगी और वह वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पेश होगा. नीरव मोदी (Nirav Modi) पर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से करीब 14,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी (PNB Scam) का आरोप है. मार्च में गिरफ्तारी के बाद से ही वह लंदन की जेल में है. धन शोधन के मामले में भी भारत में 49 वर्षीय हीरा व्यापारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज है. ब्रिटेन की क्राउन अभियोजन सेवा (सीपीएस) के जरिए भारत सरकार ने नीरव के प्रत्यर्पण को लेकर लंदन स्थित वेस्टमिंस्टर अदालत में मुकदमा दायर किया हुआ है.

ED ने नीरव मोदी की ₹330 करोड़ की संपत्ति जब्त की

कोरोना वायरस प्रतिबंधों के मद्देनजर जिला न्यायाधीश सैम्युअल गूजी ने मोदी को वेंडसवर्थ जेल के ही एक कमरे से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पेश करने के निर्देश दिए हैं. पांच दिन चलने वाली यह सुनवाई शुक्रवार को समाप्त हो सकती है.


न्यायाधीश गूजी ने मई में प्रत्यर्पण के पहले चरण की सुनवाई की अध्यक्षता की थी, जिसके दौरान सीपीएस ने मोदी के खिलाफ धोखाधड़ी और धन शोधन का एक प्रथम दृष्टया मामला कायम करने का अनुरोध किया था. भारत सरकार द्वारा अतिरिक्त ''पुष्टिकारक साक्ष्य'' जमा करने के बाद उन दलीलों को पूरा करने के लिए आगामी सुनवाई की जाएगी.

नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर ED की बड़ी कार्रवाई

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)