"प्यार-प्यार होता है", US सीनेट में समलैंगिक विवाह विधेयक पारित होने के बाद बोले जो बाइडेन

सीनेट में डेमोक्रेट्स को इस बिल को पास कराने में खासी मशक्कत करनी पड़ी. 100 सदस्यीय सीनेट में डेमोक्रेट्स के पास 50 सीटें हैं और इस पर रजामंदी के लिए उसे कम से कम 10 रिपब्लिकन वोटों की जरूरत थी. इस बिल के लिए 61 वोट पक्ष में और 36 वोट विपक्ष में पड़े. सीनेट में बिल पास होने के बाद वापस हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स जाएगा. 

वॉशिंगटन:

अमेरिकी सीनेट ने मंगलवार को समलैंगिक विवाह  (Same-Sex Marriage) की रक्षा के लिए एक ऐतिहासिक विधेयक पारित किया. इसमें ऐसे जोड़ों को संघीय सुरक्षा मिल पाएगी. सीनेट में डेमोक्रेट्स को इस बिल को पास कराने में खासी मशक्कत करनी पड़ी. 100 सदस्यीय सीनेट में डेमोक्रेट्स के पास 50 सीटें हैं और इस पर रजामंदी के लिए उसे कम से कम 10 रिपब्लिकन वोटों की जरूरत थी. इस बिल के लिए 61 वोट पक्ष में और 36 वोट विपक्ष में पड़े. सीनेट में बिल पास होने के बाद वापस हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स जाएगा. 

वोटिंग को लेकर राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने एक बयान में कहा, "आज के द्विदलीय सीनेट के समलैंगिक विवाह अधिनियम के सम्मान के साथ, संयुक्त राज्य अमेरिका एक मौलिक सत्य की पुष्टि करने जा रहा है:  'प्यार प्यार होता है.' अमेरिकियों को उस व्यक्ति से शादी करने का अधिकार होना चाहिए जिसे वे प्यार करते हैं." बाइडन ने ये बयान वोटिंग के बाद जारी किया.

दरअसल, अमेरिका में 2015 में सुप्रीम कोर्ट ने सेम सेक्स के पक्ष में फैसला सुनाया था. लेकिन जून में सुप्रीम कोर्ट ने गर्भपात के अधिकार की रक्षा करने वाले फैसले को पलट दिया था. इसके बाद से अमेरिका में यह डर सता रहा था कि सेम सेक्स विवाह भी खतरे में आ सकता है. इसके बाद डेमोक्रेट्स सरकार इसे लेकर बिल लाई थी.

रेस्पेक्ट फॉर मैरिज एक्ट अमेरिकी राज्यों को दूसरे राज्य में किए गए वैध विवाह को मान्यता देने के लिए मजबूर करेगा. ये न केवल समलैंगिक शादियों को बल्कि अंतरजातीय विवाहों को भी सुरक्षा प्रदान करेगा. यह विधेयक 1996 के डिफेंस ऑफ मैरिज एक्ट (Defense of Marriage Act 1996) को निरस्त करता है, जिसमें एक पुरुष और एक महिला के बीच की शादी को ही मान्यता दी गई थी.

सीनेट में नेता चक शूमर ने इस कदम की तारीफ करते हुए इसे LGBTQ अमेरिकन के लिए न्याय बताया. अमेरिका में दशकों से विभाजनकारी मुद्दा माने जाने वाले इस बिल के पक्ष में 11 रिपब्लिकन डेमोक्रेट्स ने भी वोट किया.  


इसी तरह का एक बिल जून में हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स में पास हुआ था. तब सभी डेमोक्रेट्स सांसदों ने इसके पक्ष में वोट किया था. इस दौरान 47 रिपब्लिकन सांसदों ने भी इसके पक्ष में वोट किया था. दोनों बिलों में सामंजस्य के लिए सदन में फिर वोटिंग होगी. हालांकि, इसे औपचारिकता के तौर पर देखा जा रहा है.  

ये भी पढ़ें:-

"हमारी जब दोस्ती हुई वो 12 साल की थी और मैं 30 का", जो बाइडन के इस बयान से इंटरनेट पर घमासान

Biden ने बताया यहां लिखा जाएगा दुनिया के इतिहास का बड़ा हिस्सा...'पहली बार हुए सम्मेलन में' दी जानकारी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

"गांजा रखने पर नहीं होनी चाहिए जेल", Biden का बड़ा फैसला- हज़ारों को कैद से मिलेगी रिहाई

Featured Video Of The Day

कियारा अडवाणी-सिद्धार्थ मल्होत्रा की शादी में शामिल होने जैसलमेर पहुंचे ईशा अंबानी-आनंद पीरामल