कोविड-19: अमेरिका ने एंटी मलेरिया दवा HCQ के आपात इस्तेमाल की मंजूरी वापस ली

अमेरिका राष्ट्रपति ट्रंप ने इस दवा को कोविड-19 से युद्ध में गेम चेंजर कहा था. उन्होंने यह भी कहा कि संक्रमण को कम करने के लिए उन्होंने दवा का उपयोग किया.

कोविड-19: अमेरिका ने एंटी मलेरिया दवा HCQ के आपात इस्तेमाल की मंजूरी वापस ली

वाशिंगटन:

अमेरिका ने सोमवार को कोरोनावायरस में इस्तेमाल की जाने दो एंटी मलेरिया दवा के इमरजेंसी यूज को वापस ले लिया है. इन दवाओं के इस्तेमाल की सिफारिश राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी की थी. जाहिर है कि अब इसके इस्तेमाल पर लगाई गई रोक से अमेरिकी सरकार द्वारा कोरोना का इलाज करने के दावों पर भी पानी फिर गया. 

टेस्ट ट्यूब में वायरस को निष्क्रिय करने के लिए मार्च में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन (HCQ) और क्लोरोक्वीन (CQ) को अधिकृत किया गया था, और शुरुआती छोटे अध्ययनों से पता चलता है कि वे मनुष्यों में भी अच्छी तरह से काम करते थे.

उस समय से, हालांकि, बड़े, बेहतर और कंट्रोल प्रयोगों ने पाया है कि ये दो दवाएं COVID-19 के इलाज में या वायरस के संपर्क में आने वाले लोगों के संक्रमण को रोकने में अप्रभावी हैं. इस दौरान, उनके उपयोग के आसपास सुरक्षा चिंताओं को उठाया गया है, विशेष रूप से कुछ रोगियों में अनियमित हार्ट बीट के जोखिम के कारण.

फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) के मुख्य वैज्ञानिक डेनिस हिंटन ने एक पत्र में लिखा है, "यह मानना उचित नहीं है कि एचसीक्यू और सीक्यू के ओरल फॉर्मूलेशन कोविड-19 के इलाज में प्रभावी हो सकते हैं. और न ही यह मानना उचित है कि इन उत्पादों के ज्ञात और संभावित लाभ उनके ज्ञात और संभावित जोखिम को पछाड़ते हैं. तदनुसार, एफडीए COVID -19 के इलाज के लिए HCQ और CQ के आपातकालीन उपयोग के लिए EUA (इमरजेंसी यूज ऑथराइजेशन) को रद्द करता है."

आपातकालीन स्वीकृतियों ने इन दवाओं को राष्ट्रीय स्टॉकपाइल से अस्पतालों को कोविड-19 से लड़ने के लिए दान करने का मार्ग प्रशस्त किया, आपातकालीन स्वीकृतियों ने इन दवाओं को नेशनल स्टॉकपिल यानि राष्ट्रीय भंडार दवा से अस्पतालों को कोविड-19 से लड़ाई के लिए दान करने अनुमति दी थी. और पूर्ण नियामक अनुमोदन से पहले इसे एक मध्यस्थ कदम के रूप में देखा गया. 


दोनों दवाओं को मलेरिया के इलाज में उपयोग के लिए अनुमोदित किया गया है, साथ ही ऑटोइम्यून स्थितियों में भी इसका प्रयोग किया जाता रहा है. इसलिए डॉक्टर अब भी COVID-19 के खिलाफ इन दवाओं को "ऑफ लेबल" लिख पाएंगे, हालांकि यह यूएस हेल्थ  ऑथोरटीज द्वारा दृढ़ता से हतोत्साहित किया जाता है.

फिर भी, इन दवाओं के इस्तेमाल पर लगी रोक ट्रम्प के लिए एक झटका है, जिन्होंने कई मौकों पर व्यक्तिगत रूप से HCQ का समर्थन किया है, इसे अपनी भावनाओं के आधार पर एक "गेम चेंजर" कहा था. उन्होंने यह भी कहा कि संक्रमण को कम करने के लिए उन्होंने दवा का उपयोग किया. लेकिन हाल ही में एक क्लिनिकल ट्रायल यह भी पाया गया कि यह इस उद्देश्य के लिए भी अप्रभावी है.


इशारों में भारत की ओर ट्रंप की चेतावनी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)