विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Feb 27, 2023

चीन की लैब से ही दुनिया में फैला था कोरोना वायरस, US की एनर्जी डिपार्टमेंट की रिपोर्ट में दावा

कोरोना महामारी की शुरुआत से ही वुहान लैब से कोरोना लीक होने की कई थ्योरी आ चुकी हैं. हालांकि, हमेशा से ही चीनी सरकार और वुहान लैब ने इन आरोपों को खारिज किया है.

Read Time: 20 mins
चीन की लैब से ही दुनिया में फैला था कोरोना वायरस, US की एनर्जी डिपार्टमेंट की रिपोर्ट में दावा
कोरोना वायरस के कारण दुनिया में अब तक 70 लाख लोगों की मौत हो चुकी है.
वॉशिंगटन:

कोरोना वायरस (Coronavirus) के पूरी दुनिया में फैलने को लेकर चीन को जिम्मेदार ठहराया जाता रहा है. कई रिपोर्ट में इसका खुलासा भी हुआ है. लेकिन हर बार चीन इन रिपोर्टों को सिरे से खारिज कर देता है. अब अमेरिका ने इंटेलिजेंस रिपोर्ट के हवाले से कहा है कि कोरोना चीन के वुहान लैब (China Wuhan Lab) से ही फैला है. सोमवार को अमेरिकी एनर्जी डिपार्टमेंट ने वायरस से जुड़ी फाइनल रिपोर्ट पेश की. एनर्जी डिपार्टमेंट ने पहले कहा था कि वायरस के ओरिजन का पता नहीं चल पा रहा है, लेकिन अब उसका मानना है कि वायरस के वुहान लैब से लीक होने की संभावना सबसे ज्यादा है.

Advertisement

एनर्जी डिपार्टमेंट के अधिकारियों का कहना है कि दुनियाभर में फैली US बायोलॉजी लैब्स से उन्हें खुफिया जानकारी मिली. इसी इनपुट के आधार पर फाइनल रिपोर्ट पेश की गई है. कुछ अधिकारियों का मानना है कि ये रिपोर्ट काफी कमजोर है. इसका निष्कर्ष किसी ठोस बुनियाद पर नहीं निकाला गया है. अमेरिका की कई एजेंसियां के बीच अब भी वायरस के ओरिजन को लेकर मतभेद हैं.

रिपोर्ट में दावा किया गया कि सुरक्षा में चूक होने की वजह से वायरस वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (WIV) से लीक हुआ था. इसके बाद महज कुछ दिनों में यह पूरी दुनिया में फैल गया. कोरोना महामारी की शुरुआत से ही वुहान लैब से कोरोना लीक होने की कई थ्योरी आ चुकी हैं. हालांकि, हमेशा से ही चीनी सरकार और वुहान लैब ने इन आरोपों को खारिज किया है.

Advertisement

2020 की शुरुआत में कोरोना वायरस लगभग पूरी दुनिया में फैल गया था. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक कोरोना वायरस के कारण दुनिया में अब तक 70 लाख लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना के कारण ही पूरी दुनिया में सप्लाई चेन बाधित हुई है.

Advertisement

इससे पहले नेशनल इंटेलिजेंस एवरिल हैन्स कार्यालय के निदेशक की ओर से 2021 में जारी एक डॉक्यूमेंट में बताया गया था कि कैसे कई खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट में कोविड-19 महामारी की उत्पत्ति के बारे में अलग-अलग निष्कर्ष सामने आए हैं. अधिकतर रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड -19 फैलाने वाला कोरोना वायरस चीन की एक लैब में हादसे के जरिए दुनिया भर फैला था. 

Advertisement

वहीं, 2021 में ही अमेरिकी संघीय जांच एजेंसी (FBI) ने भी दावा किया था कि चीन में एक लैब से ही कोरोना वायरस लीक होने के चलते वैश्विक महामारी पैदा हुई थी. खुफिया एजेंसी अभी भी अपने रिसर्च के इन नतीजों पर कायम है.

Advertisement

ये भी पढ़ें:-

"बेटा मर जाता": 3 साल तक खुद को घर में बच्चे के साथ बंद रखने वाली महिला ने पुलिस को बताया

5-प्वाइंट न्यूज़: चीन में कोरोना से हाहाकार, 7 दिनों में 13 हज़ार लोगों की मौत

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
चीन क्यों चाहता है मजबूत पाकिस्तान? क्या हो सकते हैं ड्रेगन के नापाक इरादे
चीन की लैब से ही दुनिया में फैला था कोरोना वायरस, US की एनर्जी डिपार्टमेंट की रिपोर्ट में दावा
राफा में इजरायली हवाई हमलों में 15 लोगों की मौत, कई मलबे में फंसे
Next Article
राफा में इजरायली हवाई हमलों में 15 लोगों की मौत, कई मलबे में फंसे
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;