क्वॉड के खिलाफ चीन की धमकी पर बांग्लादेश का पलटवार, बोला- हम तय करेंगे क्या करना है

चीन ने अमेरिका के नेतृत्व वाले क्वॉड संगठन को लेकर बांग्लादेश को धमकी दी है. चीन ने बांग्लादेश से कहा है कि अगर वो इस संगठन में शामिल होता है तो चीन के साथ उसके संबंध खराब होंगे. दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को "काफी नुकसान" होगा.

क्वॉड के खिलाफ चीन की धमकी पर बांग्लादेश का पलटवार, बोला- हम तय करेंगे क्या करना है

'क्वॉड' से चिढ़ा चीन, बांग्लादेश को दी धमकी- शामिल हुए तो रिश्तों को होगा नुकसान।

ढाका:

चीन (China) ने अमेरिका (America) के नेतृत्व वाले क्वॉड (QUAD) संगठन को लेकर बांग्लादेश (Bangladesh) को धमकी दी है. चीन ने बांग्लादेश से कहा है कि अगर वो इस संगठन में शामिल होता है तो चीन के साथ उसके संबंध खराब होंगे. दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को "काफी नुकसान" होगा. बता दें कि जापान, ऑस्ट्रेलिया, भारत और अमेरिका क्वॉड के सदस्य हैं. क्वॉड यानी क्वॉड्रीलेटरल सिक्योरिटी डायलॉग इन देशों के बीच ऐसा समझौता है जो हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिए किया गया है. इस संगठन से चीन की चिढ़ कई बार सामने आ चुकी है. 

बांग्लादेश में चीन के राजदूत ली जिमिंग का यह बयान चीन के रक्षा मंत्री वेई फेंघे के पिछले हफ्ते बांग्लादेश की यात्रा के बाद आया है. फेंघे ने इस दौरे पर बांग्लादेश के राष्ट्रपति अब्दुल हमीद से मुलाकात की थी और बीजिंग और ढाका को दक्षिण एशिया में "सैन्य गठबंधन" स्थापित करने वाली बाहरी शक्तियों के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया था.

राजदूत ली ने सोमवार को बांग्लादेश में आयोजित राजनयिक संवाददाता संघ की वर्चुअल बैठक में कहा, "स्पष्ट रूप से बांग्लादेश का इस छोटे क्लब (क्वॉड) में भाग लेना एक अच्छा विचार नहीं होगा क्योंकि यह हमारे द्विपक्षीय संबंधों को काफी नुकसान पहुंचाएगा."


चीनी राजदूत की इस विवादित टिप्पणी पर बांग्लादेश के विदेश मंत्री डॉ. एके अब्दुल मोमन ने कहा कि ढाका एक गुटनिरपेक्ष और संतुलित विदेश नीति बनाए रखने में विश्वास रखता है और इन सिद्धांतों के आधार पर ही तय करेगा कि आगे क्या करना है. उन्होंने कहा, "हम एक स्वतंत्र और संप्रभु राज्य हैं. हम अपनी विदेश नीति तय करते हैं. लेकिन हां, कोई भी देश अपनी स्थिति को बनाए रख सकता है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा, "स्वाभाविक रूप से, वह (चीनी राजदूत) एक देश का प्रतिनिधित्व करते हैं. वे कह सकते हैं कि वे क्या चाहते हैं. हो सकता है कि वे नहीं चाहते (बांग्लादेश क्वाड में शामिल हो)." मोमन ने आगे कहा कि अभी तक क्वाड की तरफ से किसी ने भी बांग्लादेश से बात नहीं की है.