कुछ देश ''चीनी खतरे'' को बढ़ा चढ़ाकर पेश कर रहे हैं : क्वाड बैठक पर चीन ने कहा

चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने यहां एक मीडिया ब्रीफिंग में प्रतिक्रिया पूछे जाने पर कहा कि चीन ने क्वाड शिखर सम्मेलन पर गौर किया है तथा "स्थिति पर करीब से नज़र रख रहा है.’’

कुछ देश ''चीनी खतरे'' को बढ़ा चढ़ाकर पेश कर रहे हैं : क्वाड बैठक पर चीन ने कहा

चीन क्वाड पर करीब से नजर रख रहा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बीजिंग:

चीन (China) ने क्वाड (QUAD) समूह पर निशाना साधते हुए सोमवार को कहा कि कुछ देश "विशिष्ट गुट" बना रहे हैं और ''चीनी खतरे'' को "बढ़ा-चढ़ा कर पेश" कर रहे हैं और इस कदम का नाकाम होना तय है. क्वाड देशों के नेताओं ने 25 सितंबर को वाशिंगटन में आमने-सामने के पहले शिखर सम्मेलन में एक "स्वतंत्र और मुक्त" हिंद-प्रशांत क्षेत्र सुनिश्चित करने का संकल्प लिया जो "समावेशी और लचीला" भी हो. नेताओं ने गौर किया कि रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण क्षेत्र उनकी साझा सुरक्षा और समृद्धि का आधार है तथा वहां चीन की सैन्य गतिविधियां बढ़ रही हैं.

चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने यहां एक मीडिया ब्रीफिंग में प्रतिक्रिया पूछे जाने पर कहा कि चीन ने क्वाड शिखर सम्मेलन पर गौर किया है तथा "स्थिति पर करीब से नज़र रख रहा है.'' उन्होंने कहा कि कुछ समय से कुछ देश नियम-आधारित व्यवस्था का हवाला देते हुए चीन पर हमला बोलने के लिए प्रेरित हो रहे हैं. वे ''चीन से खतरे'' को बढ़ा-चढ़ा कर पेश कर रहे हैं.

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘तथ्यों से पता चलता है कि चीन विश्व शांति का पक्षधर है, सार्वजनिक वस्तुओं का प्रदाता है तथा चीन का विकास अंतर्राष्ट्रीय विकास के लिए अहम है. अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था को कमतर करने के लिए चीन को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है." उन्होंने कहा कि चीन संयुक्त राष्ट्र केंद्रित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था तथा नियम आधारित अंतरराष्ट्रीय कानून का समर्थन करता है.


उन्होंने कहा, "हम नहीं मानते कि कुछ देशों द्वारा नियमों को परिभाषित किया जा सकता है. अमेरिका जो चाहे वह नियम बना सकता है और वह बिना कोई कीमत चुकाए दूसरे देशों में हस्तक्षेप कर सकता है. इस नियम के तहत अमेरिका किसी भी तरह से धमका सकता है और अन्य देश जो समय की प्रवृत्ति और लोगों की आकांक्षाओं के खिलाफ हैं, उसके आधिपत्य के आगे झुकते हैं.'' उन्होंने एक बार फिर कहा, ‘‘इसे समर्थन नहीं मिलेगा और इसका नाकाम रहना तय है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यह भी पढ़ेंः



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)