बाबरी फैसले को CM योगी ने बताया सत्य की जीत, बोले- जिम्मेदार लोग देशवासियों से माफी मांगें

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने बुधवार को CBI की विशेष अदालत द्वारा सुनाए गए बाबरी विध्वंस (Babri Verdict) के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि ''सत्यमेव जयते'' के अनुरूप सत्य की जीत हुई है.

बाबरी फैसले को CM योगी ने बताया सत्य की जीत, बोले- जिम्मेदार लोग देशवासियों से माफी मांगें

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • बाबरी विध्वंस मामले में अदालत का फैसला
  • अदालत ने सभी 32 आरोपियों को किया बरी
  • CM योगी आदित्यनाथ बोले- ये सत्य की जीत
लखनऊ:

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने बुधवार को CBI की विशेष अदालत द्वारा सुनाए गए बाबरी विध्वंस (Babri Verdict) के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि ''सत्यमेव जयते'' के अनुरूप सत्य की जीत हुई है. मुख्यमंत्री योगी के सूचना सलाहकार मृत्युंजय कुमार द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, मुख्यमंत्री ने कहा, “यह फैसला स्पष्ट करता है कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा राजनीतिक पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर वोट बैंक की राजनीति के लिए देश के पूज्य संतों, भारतीय जनता पार्टी के नेताओं, विश्व हिंदू परिषद से जुड़े वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं समाज से जुड़े विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों को बदनाम करने की नीयत से उन्हें झूठे मुकदमों में फंसाकर बदनाम किया गया.”

बयान के मुताबिक सीएम योगी ने कहा कि इस षड्यंत्र के लिए जिम्मेदार लोग देश की जनता से माफी मांगें. गौरतलब है कि सीबीआई की विशेष अदालत ने 6 दिसम्बर, 1992 को अयोध्या में बाबरी मस्जिद ढहाए जाने के मामले में बुधवार को बहुप्रतीक्षित फैसला सुनाते हुए सभी आरोपियों को बरी कर दिया.

बाबरी विध्वंस फैसले पर बोले मौलाना खालिद रशीद- CBI कोर्ट के फैसले को चुनौती देने पर करेंगे चर्चा

विशेष अदालत के न्यायाधीश एस के यादव ने फैसला सुनाते हुए कहा कि बाबरी मस्जिद विध्वंस की घटना पूर्व नियोजित नहीं थी, यह एक आकस्मिक घटना थी. उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ कोई पुख्ता सुबूत नहीं मिले, बल्कि आरोपियों ने उन्मादी भीड़ को रोकने की कोशिश की थी.


VIDEO: बाबरी मामले में कोर्ट ने सभी आरोपियों को किया बरी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)