'Babri masjid demolition' - 37 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | बुधवार जनवरी 13, 2021 04:00 AM IST
    इलाहाबाद उच्‍च न्‍यायालय अयोध्या के विवादित ढांचा विध्वंस मामले में लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी समेत सभी 32 दोषियों को बरी किए जाने के खिलाफ दायर याचिका पर बुधवार को सुनवाई करेगा.
  • India | शुक्रवार जनवरी 8, 2021 08:13 PM IST
    Babri Masjid Demolition case : 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद गिरा दी गई थी. सीबीआई की विशेष अदालत ने 28 साल तक चले इस मुक़दमे का फैसला 30 सितंबर 2020 को दिया था. इसमें सभी 31 आरोपियों को बरी कर दिया गया था.
  • India | रविवार दिसम्बर 6, 2020 03:17 PM IST
    Babri Masjid Demolition 2020: बाबरी मस्जिद के विंध्वंस की बरसी पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने ट्वीट कर अपने समर्थकों से कहा है कि वो अपनी आने वाली पीढ़ियों को याद दिलाएं कि 400 साल तक बाबरी मस्जिद अयोध्या में खड़ी थी. अपने ट्वीटर हैडल से ओवैसी ने लिखा कि याद करें और आने वाली पीढ़ियों को सिखाएं कि चार सौ साल तक बाबरी मस्जिद अयोध्या में खड़ी थी. हमारे पुरखों ने वहां एक साथ नमाज अदा की थी और अपने रोज़े खोले थे. जब उनकी मौत हो जाती थी तो उन्हें इसी इलाके के आस-पास दफनाया जाता था. 
  • India | रविवार दिसम्बर 6, 2020 11:56 AM IST
    Babri Masjid Demolition: 6 दिसंबर को मुस्लिम समुदाय काला दिवस के तौर पर मनाता है, जबकि हिंदू समुदाय इसे शौर्य दिवस के तौर पर मनाता है. इस लिहाज से आज अयोध्या में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. राम जन्मभूमि जाने वाले सभी रास्ते सील कर दिए गए हैं.
  • India | गुरुवार अक्टूबर 1, 2020 05:51 AM IST
    बाबरी मस्जिद (Babri Masjid) विध्वंस मामले में सीबीआई अदालत (CBI Court) द्वारा 32 आरोपियों को बरी किया जाना न्यायमूर्ति एम एस लिब्रहान आयोग (Liberhan Commission) के परिणाम के उलट है. आयोग ने कहा था कि पूर्व नियोजित तैयारी के तहत ढांचे को गिराया गया था. आयोग ने इस दलील को खारिज कर दिया था कि कारसेवकों ने अचानक ही यह कदम उठाया जबकि सीबीआई अदालत ने कहा है कि ऐसे कोई सबूत नहीं है कि ढांचा गिराने के पीछे कोई षड्यंत्र था.
  • India | बुधवार सितम्बर 30, 2020 05:49 PM IST
    6 दिसंबर, 1992 को अयोध्या के बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले के सभी 32 अभियुक्तों को आज बरी कर दिया गया. उत्तर प्रदेश की एक अदालत ने कहा कि विध्वंस की न तो योजना बनाई गई थी और न ही इसमें कोई "असामाजिक तत्व" शामिल था. भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती सभी आज इस फैसले के बाद मस्जिद गिराने की साजिश के आरोपों से बरी हो गए. अब इस फैसले पर देश भर से प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं.
  • India | बुधवार सितम्बर 30, 2020 03:28 PM IST
    कांग्रेस (Congress) ने बाबरी विध्वंस (Babri Verdict) मामले में CBI की विशेष अदालत के फैसले को पिछले साल आए उच्चतम न्यायालय के निर्णय के प्रतिकूल करार देते हुए बुधवार को कहा कि संविधान, सामाजिक सौहार्द व भाईचारे में विश्वास करने वाला हर व्यक्ति उम्मीद करता है कि इस "तर्कविहीन निर्णय" के विरुद्ध प्रांतीय व केंद्र सरकार उच्च अदालत में अपील दायर करेगी.
  • India | बुधवार सितम्बर 30, 2020 03:26 PM IST
    बाबरी विध्वंस मामले में CBI की स्पेशल कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. इस मामले में कुल 49 आरोपी थे, जिसमें बीजेपी के कद्दावर नेता विनय कटियार का नाम भी शामिल था. फैसले के बाद NDTV से बात करते हुए विनय कटियार ने इस पर खुशी जताते हुए कहा कि आज बहुत प्रसन्न हूं और इसके लिए लंबा संघर्ष किया है. उन्होंने कहा कि ये पूरी तरह से कांग्रेस की साजिश थी.  बीजेपी नेता ने बताया कि इस मामले में मुझे तीन बार जेल जाना पड़ा. मुझ पर NSA लगाया गया. कांग्रेस ने सीबीआई का दुरुपयोग किया. 
  • India | बुधवार सितम्बर 30, 2020 02:54 PM IST
    Shiv Sena on Babri Demolition Verdict: शिवसेना ने बाबरी विध्वंस मामले में लखनऊ स्थित सीबीआई की स्पेशल कोर्ट द्वारा सुनाए गए फैसले में सभी आरोपियों को बरी करने का स्वागत करते हुए कहा कि निर्णय अपेक्षित था, हमें उस एपिसोड को भूल जाना चाहिए क्यों अब राम मंदिर बनने जा रहे है. शिवसेना के सांसद संजय राउत ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मैं और मेरी पार्टी शिवसेवा, कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं और आडवाणी जी, मुरली मनोहर जोशी जी और उमा भारती जी समेत उन लोगों लोगों को बधाई देते हैं जो बरी हुए हैं. 
  • Uttar Pradesh | बुधवार सितम्बर 30, 2020 02:38 PM IST
    मुख्यमंत्री योगी के सूचना सलाहकार मृत्युंजय कुमार द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, मुख्यमंत्री ने कहा, “यह फैसला स्पष्ट करता है कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा राजनीतिक पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर वोट बैंक की राजनीति के लिए देश के पूज्य संतों, भारतीय जनता पार्टी के नेताओं, विश्व हिंदू परिषद से जुड़े वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं समाज से जुड़े विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों को बदनाम करने की नीयत से उन्हें झूठे मुकदमों में फंसाकर बदनाम किया गया.”
और पढ़ें »
'Babri masjid demolition' - 20 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com