लखीमपुर केस : UP पुलिस ने दाखिल की दूसरी चार्जशीट, सात किसानों को बनाया आरोपी

लखीमपुर खीरी मामले को लेकर दाखिल की गई पहली चार्जशीट में केंद्रीय गृह राज्‍यमंत्री के बेटे को आरोपी बनाया गया है.

लखनऊ:

उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने लखीमपुर खीरी मामले में दूसरी चार्जशीट दाखिल कर दी है. चार्जशीट में सात किसानों के खिलाफ एक ड्राइवर और दो बीजेपी नेताओं की हत्‍या का आरोप लगाया है.पिछले वर्ष लखीमपुर में तीन अक्‍टूबर की घटना को लेकर यह चार्जशीट दाखिल हुई है. गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा ने कथित तौर पर अपनी एसयूवी से चार किसानों और एक पत्रकार को रौंद दिया था, जिसके बाद हिंसा भड़क उठी थी. इसके बाद दो भाजपा कार्यकर्ताओं सहित तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्‍या कर दी गई थी. ड्राइवर और बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्‍या के मामले में पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार किया है.

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी मामले को लेकर दाखिल की गई पहली चार्जशीट में केंद्रीय गृह राज्‍यमंत्री के बेटे को आरोपी बनाया गया है. यूपी पुलिस ने घटना के अगले दिन आशीष मिश्रा और 12 अन्य को हत्या के आरोपी के रूप में नामजद करते हुए प्राथमिकी दर्ज की थीलेकिन केंद्रीय मंत्री के बेटे को सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद एक सप्ताह बाद गिरफ्तार किया गया था.

मामले की जांच कर रहे उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष जांच दल ने इसी माह की शुरुआत में एक स्थानीय कोर्ट में 5,000 पन्नों की पहली चार्जशीट दाखिल की थी. इस दौरान विशेष जांच दल चार्जशीट के हजारों पन्ने लेकर लखीमपुर खीरी में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की कोर्ट पहुंचा था. पन्ने दो ताले लगे एक बड़े पेटी में थे. केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा का जेल में बंद बेटा आशीष मिश्रा पिछले साल अक्टूबर में लखीमपुर खीरी में चार किसानों और एक पत्रकार की हत्या का मुख्य आरोपी है. कुल आठ लोगों की इस घटना में मौत हुई थी. 

UP विधानसभा चुनाव: कैसे हुई आजम खान से रामपुर के नवाब की सियासी दुश्मनी?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com