'Candidate Profile' - 71 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | मंगलवार अक्टूबर 13, 2020 12:44 PM IST
    'नालंदा के मुन्ना' से लेकर बिहार के ‘सुशासन बाबू’ तक का सफर तय कर चुके नीतीश कुमार केंद्रीय रेल मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री पद का सफर तय कर चुके हैं. वैद्य राम लखन सिंह के बेटे नीतीश कुमार का जन्म  एक मई 1950 को पटना के बख्तियारपुर में हुआ था.  पटना इंजीनियरिंग कॉलेज से उन्होंने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की. छात्र जीवन में उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की. वह जयप्रकाश नारायण के सम्पूर्ण क्रांति आंदोलन में भी शामिल हुए. 1985 में नीतीश कुमार पहली बार बिहार विधानसभा के सदस्य चुने गए थे. 1987 में उन्हें युवा लोकदल का अध्यक्ष बनाया गया था. 1989 में उन्हें बिहार में जनता दल का सचिव चुना गया. इसी साल वह बिहार से दिल्ली की ओर बढ़े और नौंवी लोकसभा के सांसद बने थे. 
  • India | मंगलवार फ़रवरी 11, 2020 12:32 AM IST
    दिल्ली में विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2020) के लिए 8 फरवरी को मतदान संपन्‍न हो चुका है. इस बार दिल्ली की राजेंद्र नगर सीट (Rajinder Nagar Vidhan Sabha Seat) पर आम आदमी पार्टी (AAP) ने राघव चड्ढा (Raghav Chadha) को अपना उम्मीदवार बनाया है. राघव चड्ढा पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं.
  • India | मंगलवार फ़रवरी 4, 2020 01:50 PM IST
    दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Elections 2020) में हरिनगर सीट पर बीजेपी ने तजिंदर पाल सिंह बग्गा (Tajinder Pal Singh Bagga) को अपना उम्मीदवार बनाया है. तजिंदर पाल सिंह बग्गा बीजेपी दिल्ली (BJP Delhi) के प्रवक्ता हैं. बग्गा आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और वकील प्रशांत भूषण को थप्पड़ मारने, अरूंधति राय के पुस्तक समारोह को बाधित करने और मणिशंकर अय्यर की टिप्पणी के विरोध में कांग्रेस मुख्यालय के बाहर चाय बेचने जैसे विवादों को लेकर चर्चा में रह चुके हैं.
  • India | मंगलवार फ़रवरी 11, 2020 12:37 AM IST
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वाराणसी में चुनौती देने वाले अरविंद केजरीवाल फरवरी 2015 में रिकार्ड बहुमत से दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री बने. दिल्‍ली विधानसभा में 70 में से 67 सीटों पर आम आदमी पार्टी के उम्‍मीदवार जीतकर आए थे और इस जीत के मुखिया थे अरविंद केजरीवाल. देश की राजनीति में अरविंद केजरीवाल अण्‍णा आंदोलन की देन हैं.
  • India | मंगलवार फ़रवरी 11, 2020 12:34 AM IST
    अरविंदर सिंह लवली (Arvinder Singh lovely) एक युवा राजनेता हैं. शीला सरकार में वह वह तीन बार विधायक रहने के साथ-साथ मंत्री भी रह चुके हैं. इतना ही नहीं वह कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भी रहे हैं. शीला दीक्षित की कैबिनेट में शिक्षा मंत्री रहते हुए उन्होंने पब्लिक स्कूलों में कमजोर वर्गों के बच्चों के लिए 20 प्रतिशत आरक्षण शुरू करने की पहल की थी.
  • India | सोमवार फ़रवरी 3, 2020 10:28 PM IST
    दिल्ली की कालकाजी विधानसभा सीट पर मुकाबले के लिए इस बार आम आदमी पार्टी ने आतिशी (Atishi Marlena) को मैदान में उतारा है. आतिशी आम आदमी पार्टी की राजनीतिक मामलों की समिति की सदस्या हैं. आतिशी (Atishi) दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की सलाहकार रह चुकी हैं. दिल्ली के सरकारी स्कूलों में आए क्रांतिकारी बदलाव के पीछे आतिशी (Atishi Marlena) का बहुत बड़ा योगदान हैं.  माना जाता है कि उनके ही सुझाव पर दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने आमूल-चूल परिवर्तन किया.
  • India | सोमवार फ़रवरी 3, 2020 06:31 PM IST
    Delhi Elections 2020: पूर्व आप नेता अलका लांबा (Alka Lamba) घरवापसी के बाद अब चांदनी चौक से कांग्रेस (Congress) की उम्मीदवार हैं. चांदनी चौक (Chandni Chowk) की विधायक रह चुकी अलका लांबा (Alka Lamba) पहले कांग्रेस में थी जिसके बाद वह आम आदमी पार्टी के साथ जुड़ी और अब वह वापस कांग्रेस में आ चुकी हैं. अलका लांबा ने अपना राजनीतिक सफर 1994 में शुरू किया था.
  • India | सोमवार नवम्बर 25, 2019 12:57 PM IST
    वर्ष 1995 में पहली बार रघुबर दास ने जमशेदपुर पूर्व सीट पर जीत दर्ज की थी, जिसके बाद से लगातार पांच चुनावों से वह इस सीट पर चुनाव जीतते रहे हैं. इस सीट पर रघुबर दास ने 2014 में कांग्रेस के प्रत्याशी को लगभग 70,000 मतों से हराया था, जबकि 2009 में उन्होंने JVM प्रत्याशी अभय सिंह को मात दी थी.
  • India | सोमवार अक्टूबर 7, 2019 04:08 PM IST
    इतना ही नहीं, वह राहुल गांधी के विश्वासपात्र समझे जाते हैं. इसी साल हरियाणा के जींद विधानसभा क्षेत्र में हुए उपचुनाव के दौरान रणदीप सिंह सुरजेवाला कांग्रेस के उम्मीदवार थे, लेकिन उन्हें तीसरे स्थान पर संतुष्ट रहना पड़ा था.
  • India | सोमवार अक्टूबर 7, 2019 04:08 PM IST
    दिवंगत बाल ठाकरे द्वारा 1966 में शिवसेना की स्थापना किए जाने के बाद से ठाकरे परिवार से किसी भी सदस्य ने कोई चुनाव नहीं लड़ा है या वे किसी भी संवैधानिक पद पर नहीं रहे हैं. युवा शिवसेना अध्यक्ष आदित्य ठाकरे ने गुरुवार को वर्ली विधानसभा क्षेत्र से अपना नामांकन दाख़िल कर दिया. वर्ली को शिवसेना की सबसे सुरक्षित विधानसभा सीटों में से एक समझा जाता है, इसलिए आदित्य की उम्मीदवारी को अंतिम रूप दिया गया है. उद्धव के चचेरे भाई और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) प्रमुख राज ठाकरे ने 2014 में राज्य में हुए विधानसभा चुनाव लड़ने की अपनी इच्छा जताई थी. हालांकि उन्होंने बाद में अपना मन बदल लिया था.
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com