राजस्थान में मानसून की दस्तक, मौसम विभाग ने जयपुर समेत कई जिलों के लिए जारी किया अलर्ट

राजस्थान में मानसून आने के बाद अधिकांश जिलों में लगातार बारिश हो रही है. इसके चलते तापमान में गिरावट जारी है, जिससे लोगों को भीषण गर्मी से निजात मिली है.

राजस्थान में मानसून की दस्तक, मौसम विभाग ने जयपुर समेत कई जिलों के लिए जारी किया अलर्ट

राजस्थान के अधिकांश जिलों में लगातार हो रही बारिश

जयपुर :

राजस्थान में मानसून आने के बाद लगातार बारिश हो रही है. मौसम विभाग ने  राज्य के अधिकांश जिलों में बारिश आने की संभावना जताई है. जयपुर में आज सुबह से बादल छाए हुए हैं. राजस्थान में मानसून के प्रवेश के बाद अधिकतर इलाकों में बारिश हो रही है. बीते 24 घंटे में जयपुर समेत कई इलाकों में तेज बारिश हुई है. मौसम विभाग के मुताबिक, प्रदेश में 30 जून और 1 जुलाई को बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग ने राज्य में 2 जुलाई को हल्की बारिश की संभावना जताई है. 

राजस्थान के इन जिलों में बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग के अनुसार,  30 जून को बूंदी, अजमेर, भीलवाड़ा और आसपास के इलाकों में बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. वहीं, राजसमंद, अलवर, सवाईमाधोपुर, बांसवाड़ा, सीकर, बारां, सिरोही, भरतपुर, दौसा, टोंक, धौलपुर, बाड़मेर, चित्तौड़गढ़, बीकानेर, चूरु, हनुमानगढ़, धौलपुर, जयपुर, जालोर, जोधपुर, झालावाड़, श्रीगंगानगर, नागौर, प्रतापगढ़, झुंझुनूं, पाली, करौली और कोटा में बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है.
बारिश के चलते तापमान आई गिरावट 

गर्मी से राहत, लेकिन सतर्क रहने की सलाह
राजस्थान में मानसून आने के बाद अधिकांश जिलों में लगातार बारिश हो रही है. इसके चलते तापमान में गिरावट जारी है, जिससे लोगों को भीषण गर्मी से निजात मिली है. वहीं, दूसरी और बारिश के चलते जलभराव की समस्या हो रही है. मौसम विभाग ने लगातार हो रही बारिश को देखते हुए आम लोगों से बारिश के दौरान पेड़ और बिजली के पोल से दूर रहने की सलाह दी. 

राजस्थान में मानसून के प्रवेश के साथ ही हाडोती में भी मानसून की धमाकेदार एंट्री हुई है. जून के महीने में 156 एमएम बारिश से पिछले 11 साल का रिकॉर्ड टूट गया है. वहीं, चंबल नदी पर बने बांधो मैं भी पानी की आवक हो रही है. मानसून की दस्तक के साथ ही कोटा में चंबल नदी पर बने कोटा बैराज बांध से सीजन में पहली बार 3700 क्यूसेक पानी की निकासी की गई. 754 फीट भराव क्षमता वाला कोटा बैराज बांध 753.40 फ़ीट भर गया है. अच्छी बारिश से तापमान में भी गिरावट दर्ज की जा रही है. वहीं किसानों के चेहरे भी खिलने लगे है अब किसान खेतों की ओर रुख करेंगे और सोयाबीन सहित अन्य फसलों की बुवाई की जाएगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये भी पढ़ें :- 
महाराष्ट्र में 3 जुलाई तक भारी बारिश का अनुमान, मुंबई, ठाणे, पुणे, रायगढ़, रत्नागिरी अलर्ट पर
दिल्ली में अगले 5 दिनों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना, IMD ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट