मध्य प्रदेश: क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहे युवक ने लगाई फांसी, पांच साथियों के साथ 24 को पहुंचा था पन्ना

कोरोना के कहर के चलते पूरे देश में लॉकडाउन लागू है ऐसे में कई जो मजदूर काम करने अपने शहरों और गांवों को छोड़कर गए थे.

मध्य प्रदेश: क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहे युवक ने लगाई फांसी, पांच साथियों के साथ 24 को पहुंचा था पन्ना

मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पन्ना:

कोरोना के कहर के चलते पूरे देश में लॉकडाउन लागू है ऐसे में कई जो मजदूर काम करने अपने शहरों और गांवों को छोड़कर गए थे, वो दोबारा अपने घरों की तरफ लौटकर आ रहे हैं. प्रशासन ने लोगों की सुरक्षा के लिए बाहर से आ रहे मजदूरों को 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन सेंटर तैयार किए हैं. जहां इन मजदूरों को जांच के लिए रखा गया है, साथ ही उनके लिए खाने-पीने का भी इंतजाम किया गया है. मध्य प्रदेश के पन्ना जिले के अमानगंज में ऐसे ही एक क्वारेंटाइन सेंटर में एक युवक ने फांसी लगा ली. जिससे पूरे इलाके में सनसनी फैल गई. मौके पर राजस्व अधिकारी सहित पुलिस की टीम पहुंची, मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. 


वहीं अमानगंज थाना प्रभारी ने बताया कि यह युवक महेबा निवासी हैं, जो 24 अप्रैल को सागर जिले के गढ़ाकोटा से अपने पांच साथियों सहित पन्ना आया हुआ था. इन के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए अमानगंज शासकीय महाविद्यालय क्वारेंटीन  सेटर में रखा गया था इसके साथी भी रह रहे थे. जानकारी के मुताबिक आज सुबह ही महेबा गांव से इसके माता-पिता इस युवक से मिलने भी आए हुए थे. उनके जाने के बाद ही युवक ने फांसी लगा ली. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि मध्य प्रदेश में कोविड-19 से मरने वालों की संख्या सोमवार को 113 हो गई और संक्रमितों की संख्या बढ़ कर 2,330 पर पहुंच गई है. मध्य प्रदेश सरकार के ताजा स्वास्थ्य बुलेटिन के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण से 10 लोगों की मौत हो गई. मरने वालों में इंदौर में छह, भोपाल में तीन और मंदसौर में एक मौत शामिल है, जबकि इसी अवधि में संक्रमण के 240 नये मामले सामने आए हैं.