छत्तीसगढ़ में माओवादियों और डीआरजी के जवानों के बीच मुठभेड़, एक महिला नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों ने नक्सलियों के खिलाफ अभियान तेज कर रखा है. हाल ही में नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले से सुरक्षा बलों ने चार नक्सलियों को गिरफ्तार किया.

छत्तीसगढ़ में माओवादियों और डीआरजी के जवानों के बीच मुठभेड़, एक महिला नक्सली ढेर

चांदामेटा और कुमाकोलेंगे की पहाड़ियों के बीच चल रही मुठभेड़ (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जगदलपुर:

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित इलाके में माओवादियों और सुरक्षाबल के बीच मुठभेड़ की खबर आ रही है. बस्तर के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) सुंदरराज पी ने शुक्रवार को  बताया कि बस्तर और सुकमा जिले के सीमावर्ती इलाके में डीआरजी और माओवादियों के बीच एनकाउंटर हुआ. चांदामेटा और कुमाकोलेंगे की पहाड़ियों के बीच यह मुठभेड़ चल रही है. मुठभेड़ में एक महिला माओवादी को मार गिराया गया है. 

बता दें कि छत्तीसगढ़ में सुरक्षाबलों ने नक्सलियों के खिलाफ अभियान तेज कर रखा है. हाल ही में नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले से सुरक्षा बलों ने चार नक्सलियों को गिरफ्तार किया. पुलिस अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि जिले के पामेड़ थाना क्षेत्र के उड़तामल्ला गांव के जंगल में चार नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि नक्सल विरोधी अभियान के तहत 13 जून को पामेड़ थाना से जिला बल और सीआरपीएफ के कोबरा बटालियन के दल को गश्त पर रवाना किया गया था. 

दल ने उड़तामल्ला गांव के जंगल से चार नक्सलियों समैया सवलम (20), बामन कोवासी (26), पोड़ियाम किस्टैया (27) और माड़वी रामा (22) को गिरफ्तार किया. उसी दिन नैमेड़ थाना क्षेत्र में बेरूदी नदी के करीब पुलिस दल ने नक्सली आयतु लेकाम (30) को गिरफ्तार किया.


गिरफ्तार किए गए चार नक्सलियों के खिलाफ 2019 के फरवरी और मार्च में पुलिस दल पर हमला करने और बारूदी सुरंग में विस्फोट की घटना में शामिल होने का आरोप है. वहीं आयतु लेकाम के खिलाफ इस साल 12 अप्रैल को मिनगाचल स्थित वाटर प्लांट में लगे वाहनों में आगजनी की घटना में शामिल होने का आरोप है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वीडियो: नक्सल "अंकल" पापा को छोड़ दो, मासूम गुहार चुप क्यों है सरकार!