कथित रूप से गांजे की तस्करी के मामले में Amazon के अधिकारियों पर केस दर्ज

ई-कॉमर्स नेटवर्क के माध्यम से कथित रूप से मारिजुआना की तस्करी का मामला, चार महीनों में एक ही प्लेटफॉर्म का उपयोग करके लगभग एक टन गांजा मंगाया गया

कथित रूप से गांजे की तस्करी के मामले में Amazon के अधिकारियों पर केस दर्ज

प्रतीकात्मक फोटो.

भोपाल:

मध्यप्रदेश के भिंड जिले की पुलिस ने अब कथित तस्करी के सिलसिले में Amazon इंडिया के कार्यकारी निदेशकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. ई-कॉमर्स नेटवर्क के माध्यम से कथित रूप से मारिजुआना (गांजा) की तस्करी के मामले में उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया है. आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार एनडीपीएस अधिनियम के यह मामला दर्ज किया है. पुलिस ने Amazon की ओर से दाखिल किए गए जवाब में विरोधाभास पाया है. पुलिस ने Amazon के खिलाफ सबूत एकत्र किए हैं.

पुलिस ने कहा कि कुछ दिन पहले सड़क किनारे ढाबा चलाने वाले सूरज और बिजेंद्र सिंह तोमर को 20 किलो गांजे के साथ गिरफ्तार किया गया था. यह गांजा कथित तौर पर Amazon का उपयोग करके विशाखापट्टनम से मंगवाया गया था.

भिंड के पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने कहा कि “वे पिछले चार महीनों से प्रमुख ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म का उपयोग करके नशीले पदार्थों की सोर्सिंग कर रहे थे. पिछले चार महीनों में उनके द्वारा एक ही प्लेटफॉर्म का उपयोग करके लगभग एक टन गांजा पहले ही प्राप्त किया जा चुका है. इस अवधि के दौरान 1.10 करोड़ रुपये का लेनदेन हुआ था.”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने भी कहा कि यह गंभीर चिंता का विषय है. उन्होंने कहा, “ऑनलाइन व्यवसायों के लिए कोई दिशानिर्देश नहीं हैं. एमपी के लिए गाइडलाइंस बनाएंगे. Amazon को बुलाया गया था लेकिन वे सहयोग नहीं कर रहे हैं. हम उन्हें लाएंगे. मैं Amazon के एमडी-सीईओ से सहयोग करने की अपील करता हूं, नहीं तो हम कार्रवाई शुरू करेंगे.''