धनबाद में जज की हत्या के केस में झारखंड HC ने लिया संज्ञान, FIR में देरी पर जताई नाराज़गी

झारखंड हाईकोर्ट ने कहा कि किसी भी वक्त अगर अदालत को ऐसा लगा कि जांच में कोताही बरती जा रही है तो यह मामला सीबीआई को दे दिया जाएगा.

Dhanbad Judge Murder Case: झारखंड हाईकोर्ट (Jharkhand High Court) ने धनबाद के जज उत्तम आनन्द (ADJ Uttam Anand) के मौत मामले में संज्ञान लिया है. कोर्ट ने धनबाद के जिला न्यायाधीश के पत्र पर इस मामले में संज्ञान लेते हुए सुनवाई की और डीजीपी और धनबाद SSP को भी तलब किया. पूरे मामले की जानकारी भी उनसे ली. हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रविरंजन ने FIR होने में देर होने पर नाराजगी जाहिर की है. DGP को जल्द इस मामले त्वरित कार्रवाई का निर्देश दिया. हाईकोर्ट ने कहा कि हम इस मामले की मॉनिटरिंग करेंगे.

जज उत्‍तम आनंद के मौत मामले का संबंध कहीं बीजेपी नेता रंजय सिंह हत्‍या केस से तो नहीं, यूं जुड़ रही कड़ी...

हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि किसी भी वक्त अगर अदालत को ऐसा लगा कि जांच में कोताही बरती जा रही है तो यह मामला सीबीआई को दे दिया जाएगा. कोर्ट ने मौखिक टिप्पणी करते हुए कहा कि झारखंड में कुछ दिनों पहले एक पुलिस पदाधिकारी की भी मौत हुई थी, उसके बाद एक वकील की हत्या हुई और अब एक जज की मृत्यु संदेहास्पद परिस्थितियों में हुई है. इसका मतलब यह है कि झारखंड में कानून व्यवस्था की स्थिति बदतर हो चुकी है.


SC में जज मर्डर की गूंज, बार एसोसिएशन प्रमुख ने की CBI जांच की मांग, ऑटो ड्राइवर गिरफ्तार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


झारखंड के जज मर्डर मामले की गूंज गुरुवार को दिल्‍ली में भी सुनाई दी. झारखंड बीजेपी के अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने धनबाद में अपर जिला जज की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत की सीबीआई जांच की मांग की है. दीपक प्रकाश ने NDTV से बातचीत करते हुए कहा, 'धनबाद की घटना की सीबीआई जांच होनी चाहिए. झारखंड में कानून व्यवस्था चरमरा गई है. राज्य सरकार तत्काल इस घटना की जांच के लिए केंद्र से सीबीआई जांच की अनुशंसा करे.'