दिल्ली में 'लू' पर Yellow अलर्ट: वीकेंड पर मिल सकती है राहत, मानसून भी ठिठका; जानें- कब कहां होगी बारिश?

Weather Updates: मौसम विशेषज्ञों ने तेज पश्चिमी विक्षोभ की कमी और लगातार गर्म एवं शुष्क पश्चिमी हवाओं की कमी को लू के लिए जिम्मेदार ठहराया है. मॉनसून के 15 जून तक पूर्वी भारत पहुंचने की उम्मीद के साथ, पूर्वी हवाएं नमी लाएंगी और उत्तर-पश्चिम भारत में मानसून पूर्व गतिविधि को तेज करेंगी.

दिल्ली में 'लू' पर Yellow अलर्ट: वीकेंड पर मिल सकती है राहत, मानसून भी ठिठका; जानें- कब कहां होगी बारिश?

नई दिल्ली में आज सुबह बेहद गर्म रही और न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में बृहस्पतिवार (09 जून) की सुबह बेहद गर्म रही और न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने आज दिन के समय भीषण गर्मी के साथ लू चलने की आशंका जताई है. मौसम विभाग ने कहा कि दिल्ली के लोगों को सप्ताहांत में लू से राहत मिलने की संभावना है. मौसम विभाग के मुताबिक सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता 33 प्रतिशत दर्ज की गयी. राजधानी में शनिवार तक अधिकतम तापमान गिरकर 41 डिग्री सेल्सियस तक रहने का अनुमान जताया गया है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के एक अधिकारी ने कहा, “दिल्ली में बृहस्पतिवार को लू चलने का अनुमान है. दिन का अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है.” दिल्ली में बुधवार को अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 44 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. 

IMD ने बृहस्पतिवार को राजधानी में अलग-अलग स्थानों पर लू की स्थिति की चेतावनी देते हुए येलो अलर्ट जारी किया है. आईएमडी की ओर से जारी एक परामर्श में कहा गया है, ‘‘उन लोगों में गर्मी से संबंधित बीमारियों के लक्षणों की आशंका बढ़ जाती है, जो या तो लंबे समय तक धूप में रहते हैं या भारी काम करते हैं.''

Weather Forecast: उत्तर-पश्चिम, मध्य भारत में लू का प्रकोप जारी,  तापमान 46.2 के पार

मौसम विशेषज्ञों ने तेज पश्चिमी विक्षोभ की कमी और लगातार गर्म एवं शुष्क पश्चिमी हवाओं की कमी को लू के लिए जिम्मेदार ठहराया है. मॉनसून के 15 जून तक पूर्वी भारत पहुंचने की उम्मीद के साथ, पूर्वी हवाएं नमी लाएंगी और उत्तर-पश्चिम भारत में मानसून पूर्व गतिविधि को तेज करेंगी.

आईएमडी के अनुसार, मैदानी इलाकों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक या सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक होने पर गर्म हवाओं को ‘लू' घोषित किया जाता है. सामान्य से 6.4 डिग्री अधिक तापमान होने पर ‘भीषण लू' की घोषणा की जाती है.

वेदर बैलून की जगह लेंगे ड्रोन, मात्र 40 मिनट में एकत्रित होगा डाटा और ज्यादा सटीक होगी मौसम की भविष्यवाणी

स्काईमेट वेदर के उपाध्यक्ष (जलवायु परिवर्तन और मौसम विज्ञान) महेश पलावत ने कहा कि मानसून के प्रचलित तारीख 27 जून के आसपास दिल्ली पहुंचने की संभावना है. ऐसी कोई प्रणाली नहीं है जो इसकी प्रगति बाधित हो सकेगी. उन्होंने कहा कि एक या दो सप्ताह में स्पष्ट तस्वीर सामने आएगी.

चार्ट में देखें- कब, कहां होगी बारिश?

hfmqkeg8

पिछले साल, आईएमडी ने भविष्यवाणी की थी कि मानसून अपनी सामान्य तिथि से लगभग दो सप्ताह पहले दिल्ली पहुंच जाएगा. हालांकि, यह 13 जुलाई को राजधानी पहुंचा, जो 19 वर्षों में सबसे अधिक विलंबित अवधि थी.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा कि इस सप्ताह के दौरान पूर्वोत्तर भारत और उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में भारी बारिश जारी रहने की संभावना है. सिक्किम सहित पूर्वोत्तर और उत्तर बंगाल क्षेत्र में एक बार फिर भारी बारिश हुई है. आईएमडी ने 12 जून तक असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश के लिए ऑरेंज अलर्ट  जारी किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


निर्धारित समय से तीन दिन पहले से केरल पहुंचा मानसून अपेक्षाकृत गति से आगे नहीं बढ़ पाया है. फिलहाल यह केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु में ठिटका पड़ा है, जबकि 9 जून तक इसे महाराष्ट्र और तेलंगाना में दस्तक दे देना चाहिए था.