MP में नए चेहरे को CM कुर्सी देने की अटकलों के बीच शिवराज सिंह चौहान ने BJP नेतृत्व को दिया संदेश!

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी को शानदार जीत मिली है. 230 सदस्यों वाले विधानसभा में बीजेपी को 163 सीटों पर जीत मिली है.

MP में नए चेहरे को CM कुर्सी देने की अटकलों के बीच शिवराज सिंह चौहान ने BJP नेतृत्व को दिया संदेश!

खास बातें

  • मध्य प्रदेश में बीजेपी को विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत मिली है
  • शिवराज सिंह चौहान लंबे समय से MP में बीजेपी के चेहरे रहे हैं
  • मध्यप्रदेश में बीजेपी किसी नए नाम की तलाश कर रही है
भोपाल, नई दिल्ली:

हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी को 3 राज्यों में शानदार जीत मिली. अब मुख्यमंत्री के नाम को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है. मध्य प्रदेश में सीएम के नाम को लेकर चल रही चर्चाओं के बीच शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने पार्टी आलाकमान को संदेश दिया है. संविधान निर्माता बीआर अंबेडकर की पुण्यतिथि के अवसर पर भोपाल में एक कार्यक्रम के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए, चौहान ने कहा, "मैंने डॉ. बीआर अंबेडकर को श्रद्धांजलि अर्पित की. भाजपा सरकार उनके दिखाए रास्ते पर चल रही है. प्रधान मंत्री (नरेंद्र) मोदी के नेतृत्व में हम समाज के अंतिम व्यक्ति के कल्याण के लिए काम कर रहे हैं. शिवराज सिंह चौहान की इस टिप्पणी को जानकार पार्टी आलाकमान के लिए संदेश के तौर पर देख रहे हैं. 

इस टिप्पणी को कई लोगों ने मुख्यमंत्री द्वारा पार्टी नेतृत्व को यह याद दिलाने के एक प्रयास के रूप में देखा है कि कैसे उनकी सरकार की लाडली बहना जैसी कल्याणकारी योजनाओं ने भाजपा के लिए चुनाव जीतने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

सीएम पद के लिए बीजेपी कई नामों पर कर रही है चर्चा

शिवराज सिंह का बयान ऐसे समय में आया है जब अगले साल होने वाले बड़े चुनाव को ध्यान में रखते हुए, बीजेपी द्वारा केंद्रीय राज्यों के लिए मुख्यमंत्रियों का चयन करते समय दिग्गजों के बजाय पूरी तरह से नए चेहरों पर विचार करने की चर्चा है. बताते चलें कि जब से भाजपा ने मध्य प्रदेश में 230 में से 163 सीटों पर प्रचंड जीत हासिल की है, तब से चौहान ने जोर देकर कहा है कि वो पार्टी के एक वफादार कार्यकर्ता हैं और वो सीएम पद की दौड़ में नहीं हैं. 

मंगलवार को भी पत्रकारों से बातचीत में चौहान ने कहा था कि उनका अगला लक्ष्य अगले साल आम चुनाव में सभी 29 लोकसभा सीटों पर भाजपा की जीत सुनिश्चित करना है. भाजपा ने पिछले साल 29 में से 28 सीटें जीतीं, एक कांग्रेस के खाते में गई थी.  सीएम पद की पैरवी को लेकर चौहान अभी तक दिल्ली नहीं गए हैं. उन्होंने कहा कि मैं दिल्ली नहीं जा रहा हूं. कल, मैं छिंदवाड़ा जाऊंगा. मेरा केवल एक ही संकल्प है. भाजपा को लोकसभा में मध्य प्रदेश की सभी 29 सीटें जीतनी चाहिए.  हम प्रधानमंत्री मोदी के लिए एक माला तैयार करना चाहते हैं. यह 29 कमलों से बनी होगी जो हम उन्हें तब भेंट करेंगे जब वह दोबारा प्रधानमंत्री बनेंगे. 

जीत के बाद से लगातार लोगों से मिल रहे हैं शिवराज 

अपनी जीत के बाद, मुख्यमंत्री ने सर्दियों से पहले व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए भोपाल में दो रैन बसेरों का दौरा किया.  उन्होंने रैन बसेरा का खाना भी चखा. वह भोपाल के एक इलाके में भी गए और 'लाडली बहना' लाभार्थियों के एक समूह से मुलाकात की.  एक वायरल वीडियो में उन्हें और उनकी पत्नी को एक रेस्तरां में भोजन करते और लोगों के साथ बातचीत करते हुए दिखाया गया है.  

पीएम आवास पर हुई बीजेपी की बैठक

बताते चलें कि बीजेपी नेतृत्व मुख्यमंत्रियों को चुनने के लिए विचार-मंथन के तहत तीन राज्यों के नेताओं के साथ बैठक कर रहा है, जो अगले साल होने वाले प्रमुख चुनावों में इस केंद्र का नेतृत्व करेंगे. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा ने आज प्रत्येक राज्य के प्रमुख नेताओं से मुलाकात की. तीनों राज्यों में प्रबल दावेदारों पर चर्चा के लिए कल रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर एक बड़ी बैठक भी हुई. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये भी पढ़ें-: