केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के मुंबई दौरे में सुरक्षा चूक, अफसर बनकर घूमने वाला गिरफ़्तार

यही नहीं यही शख्स महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस के घर के बाहर भी ब्लेजर पहनकर घूमता दिखा. जब इस व्यक्ति पर शक हुआ तो मंत्रालय के एक अधिकारी ने मुंबई पुलिस को जानकारी दी. मुंबई पुलिस ने पूछताछ के बाद इस शख्स को अरेस्ट कर लिया.

खास बातें

  • गृहमंत्रालय का आईडी लेकर घूम रहा था शख्स
  • 1 घंटे के करीब घूमता रहा
  • कोर्ट ने 5 दिन की कस्टडी में भेज दिया

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के मुंबई दौरे के दौरान सुरक्षा में चूक का मामला सामने आया है. खुद को आंध्र प्रदेश के सांसद का पीए बताकर एक शख्स घंटों घूमता रहा.यह शख्स गृह मंत्रालय का पट्टा (ID कार्ड वाला) पहनकर घूम रहा था. यही नहीं यही शख्स महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस के घर के बाहर भी ब्लेजर पहनकर घूमता दिखा. जब इस व्यक्ति पर शक हुआ तो मंत्रालय के एक अधिकारी ने मुंबई पुलिस को जानकारी दी. मुंबई पुलिस ने पूछताछ के बाद इस शख्स को अरेस्ट कर लिया है. आरोपी का नाम हेमंत पवार है और वह धुले का रहने वाला है. आरोपी पवार को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे 5 दिनों की पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया है.

बता दें कि मुंबई यातायात पुलिस ने बुधवार को उन आरोपों को खारिज किया कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के काफिले के गुजरने के दौरान एक एंबुलेंस को रोका गया था. पुलिस ने कहा कि एंबुलेंस में कोई आपात स्थिति वाला रोगी नहीं था और तकनीकी खराबी के कारण उसका सायरन बजता रहा. शाह की महाराष्ट्र यात्रा के एक दिन बाद इसके वीडियो और तस्वीरें सामने आईं, जिसमें शाह के काफिले के गुजरने के दौरान उपनगर अंधेरी में यातायात में एंबुलेंस इंतजार करती दिख रही है. यातायात पुलिस ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर जारी एक बयान में कहा कि पूछताछ के बाद मौके पर मौजूद यातायात अधिकारी ने यह पुष्टि की कि एंबुलेंस में कोई आपातकालीन रोगी नहीं था और खराबी के कारण एंबुलेंस चालक सायरन को बंद करने में असमर्थ था. आरोप झूठे हैं. वीडियो सोशल मीडिया पर प्रसारित होने के बाद कई यूजर ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और ‘‘वीआईपी संस्कृति'' की आलोचना की.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि अमित शाह ने शहर के दो दिवसीय दौरे के दौरान सोमवार को एक प्रमुख गणेश पंडाल लालबागचा राजा का दौरा किया था. वह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के आवास पर भी गए.