विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 01, 2023

दिल्ली में लड़की की कई किलोमीटर कार से घसीटे जाने से मौत, पीड़ित परिवार का दावा 'निर्भया' जैसा मामला

बाहरी दिल्ली के डीसीपी हरेंद्र कुमार सिंह एनडीटीवी से बातचती में कहा कि अभी तक की जांच में जो बातें निकल कर सामने आई हैं उसके मुताबिक आरोपी लड़के नए साल के मौके पर मुरथल से जश्न मनाकर लौट रहे थे.

Read Time: 5 mins

दिल्ली में लड़की को कार सवार युवकों ने कई किलोमीटर घसीटा

नई दिल्ली:

नए साल के पहले दिन ही दिल्ली में एक लड़की के साथ दिल दहलाने वाले घटना हुई है. राजधानी के कंझावला इलाके में कार सवार लड़कों द्वारा एक स्कूटी सवार लड़की को टक्कर मारने के बाद उसे कई किलोमीटर तक सड़क पर घसीटा गया. इस घटना में पीड़ित लड़की की मौत हो गई. पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपियों ने पहले लड़की की स्कूटी में अपनी कार से टक्कर मारी और उसके बाद उसे करीब 12 किलोमीटर तक घसीटते रहे. इस दौरान लड़की कार में फंसी रही. इस घटना को लेकर जो वीडियो सामने आया है उसमे लड़की के दोनों पैर, सिर व शरीर के अन्य अंगों पर गहरे चोट के निशान हैं. खास बात ये है कि यह घटना उस वक्त हुई जब नए साल के जश्न को लेकर पूरी दिल्ली पुलिस यहां तक की खुद दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा गश्त पर थे. फिलहाल पुलिस ने इस पूरे मामले में पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार आरोपियों की पहचान 26 वर्षीय दीपक खन्ना,25 वर्षीय अमित खन्ना,27 वर्षीय कृष्ण,26 वर्षीय मिथुन और 27 वर्षीय मनोज मित्तल के रूप में की है. 

इस घटना को लेकर पीड़ित लड़की के मामा ने कहा कि ये मामला 'निर्भया' जैसा है. हमारी भांजी के साथ कुछ गलत हुआ है. हम चाहते हैं कि इस मामले में हर पहलू से जांच हो और हमारी भांजी को इंसाफ मिले. वहीं, पीड़िता की मां का कहना है कि मेरी बेटी के साथ एक्सीडेंट भी हुआ और उसके साथ 'गलत काम' भी हुआ है. पहले भी उसका एक बार एक्सीडेंट हुआ था, उस समय भी कपड़े फटे थे लेकिन इस बार तो उसके शरीर पर कोई कपड़ा ही नहीं बचा है. उसके तन पर एक भी कपड़ा नहीं है. हमे उसका शरीर तक नहीं दिखाया जा रहा है. मैं चाहती हूं कि पुलिस इस पूरे मामले की अच्छे से जांच करे. 

उधर, बाहरी दिल्ली के डीसीपी हरेंद्र कुमार सिंह एनडीटीवी से बातचीत में कहा कि अभी तक की जांच में जो बातें निकल कर सामने आई हैं उसके मुताबिक आरोपी लड़कों नए साल के मौके पर मुरथल से जश्न मनाकर लौट रहे थे. उन्होंने बताया कि मृतक लड़की का परिवार अमन विहार में रहता है. मृतक लड़की के घर में मां और चार भाई- बहन हैं, जिसमे यह सबसे बड़ी बहन थी दो छोटे भाई हैं. एक 9 साल और दूसरा 13 साल का. पिता की पहले मौत हो चुकी है. एक बहन शादीशुदा है. डीसीपी हरेंद्र कुमार सिंह के मुताबिक मृतक लड़की पार्टियों में खाना सर्व करती थी और वो रात करीब 3 बजे काम खत्म करने के बाद स्कूटी से अपने घर लौट रही थी.

इसी बीच कंझावला थाने में सुबह 3:24 मिनट पर एक पीसीआर कॉल मिली कि एक गाड़ी में शव बंधा हुआ है जो नीचे लटका हुआ है. बाद में कॉलर ने गाड़ी का नम्बर और गाड़ी का रंग भी बताया. इसके बाद सुबह 4:11 बजे दूसरी पीसीआर कॉल मिली जिसमे बताया गया कि लड़की का शव सड़क पर पड़ा हुआ है. हालांकि, हमारी टीम ने पहली पीसीआर कॉल मिलने के बाद ही आरोपियों की तलाश शुरू कर दी थी, कुछ देर बाद ही पुलिस ने कार सहित सभी पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. 

इस पूर मामले पर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालिवाल ने भी दुख जताया है. उन्होंने घटना को लेकर एक ट्वीट भी किया. मालीवाल ने अपने ट्वीट में लिखा कि दिल्ली के कंझावला में एक लड़की की नग्न अवस्था में लाश मिली, बताया जा रहा है कि कुछ लड़कों ने नशे की हालत में गाड़ी से उसकी स्कूटी को टक्कर मारी और उसे कई किलोमीटर तक घसीटा. ये मामला बेहद भयानक है, मैं दिल्ली पुलिस को हाज़िरी समन जारी कर रही हूं. पूरा सच सामने आना चाहिए.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
राम सेतु अंतरिक्ष से कैसा दिखता है; कौन नजर आता है अब भी यहां...यूरोप और भारत के नजरिए में क्या है अंतर? 
दिल्ली में लड़की की कई किलोमीटर कार से घसीटे जाने से मौत, पीड़ित परिवार का दावा 'निर्भया' जैसा मामला
दिल्ली के निलौठी गांव की एक फैक्ट्री में लगी आग, 43 हजार से ज्यादा है इस गांव की आबादी
Next Article
दिल्ली के निलौठी गांव की एक फैक्ट्री में लगी आग, 43 हजार से ज्यादा है इस गांव की आबादी
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;