मोदी सरकार ने न तो देश से वफादारी निभाई और न ही जनता से : राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा, ‘‘आरबीआई ने रेपो रेट में 0.5 प्रतिशत का इज़ाफ़ा किया है, जो अब बढ़कर 4.9 प्रतिशत हो गया है. आरबीआई के अनुसार 2022-23 में महंगाई और ज़्यादा बढ़ने वाली है, वहीं खुदरा महंगाई 6.7 प्रतिशत रहने वाली है.’’

मोदी सरकार ने न तो देश से वफादारी निभाई और न ही जनता से : राहुल गांधी

कांग्रेस नेता ने सवाल किया, ‘‘मध्यमवर्गीय और नौकरीपेशा लोग कहां जाएं और अपना परिवार कैसे पालें?’’

नई दिल्ली:

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने महंगाई को लेकर गुरुवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार ने न तो देश से वफ़ादारी निभाई, न ही जनता से. उन्होंने फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘‘वफ़ादारी और अदाकारी में फर्क है. मोदी सरकार ने न तो देश से वफ़ादारी निभाई, न ही जनता से. मैं बात कर रहा हूं महंगाई की. अगर आपको लग रहा है कि महंगाई आगे चल कर कम हो जाएगी, तो आप ग़लतफहमी में हैं. आने वाले दिनों में मोदी सरकार के नए प्रहार के लिए तैयार हो जाइए.''

राहुल गांधी ने कहा, ‘‘आरबीआई ने रेपो रेट में 0.5 प्रतिशत का इज़ाफ़ा किया है, जो अब बढ़कर 4.9 प्रतिशत हो गया है. आरबीआई के अनुसार 2022-23 में महंगाई और ज़्यादा बढ़ने वाली है, वहीं खुदरा महंगाई 6.7 प्रतिशत रहने वाली है.''

उन्होंने दावा किया, ‘‘सरकार की गलत आर्थिक नीतियों ने आम जनता पर महंगाई का ऐसा बोझ डाला है कि अब लोगों के बर्दाश्त से बाहर हो रहा है. होम, ऑटो, पर्सनल लोन और मासिक किस्त महंगी होंगी.''

कांग्रेस नेता ने सवाल किया, ‘‘मध्यमवर्गीय और नौकरीपेशा लोग कहां जाएं और अपना परिवार कैसे पालें?''

यह भी पढ़ें:
राहुल गांधी की ईडी के सामने पेशी पर शक्ति प्रदर्शन की तैयारी में कांग्रेस, सांसदों को बुलाया गया दिल्ली
राहुल की पेशी पर शक्ति प्रदर्शन की तैयारी में कांग्रेस, सांसदों को दिल्ली बुलाया गया
सोनिया, राहुल को ईडी के नोटिस पर कांग्रेस ने कहा: छिपाने के लिए कुछ भी नहीं है

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राहुल गांधी को ED का समन, नेशनल हेराल्‍ड केस में 13 जून को होना है पेश | पढ़ें



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)