विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 26, 2023

कैश फॉर क्वेश्चन केस : अब महुआ मोइत्रा आएं और अपने बचाव में जो कहना हो कहें - एथिक्स कमेटी अध्यक्ष विनोद सोनकर

Cash-for-query row: एथिक्स कमेटी के अध्यक्ष विनोद सोनकर ने कहा कि आज निशिकांत दुबे और एडवोकेट जय अनंत को हम लोगों ने बुलाया था. इन लोगों को समन किया गया था. दोनों की बात ध्यान से एथिक्स कमेटी ने सुनी है.

Read Time: 5 mins

महुआ मोइत्रा कैश कांड में आज एथिक्स कमेटी की बैठक हुई

नई दिल्ली:

महुआ मोइत्रा घूसकांड में आज लोकसभा की एथिक्स कमेटी की बैठक हुई. इस मामले में कमेटी के सामने जय अनंत देहाद्राई और बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे पेश हुए. ये एथिक्स कमेटी टीएमसी सांसद पर लगे आरोपों की जांच कर रही है. सूत्रों के मुताबिक- कमेटी के सामने निशिकांत दुबे ने साक्ष्य रखे हैं. कमेटी ने जो भी सवाल पूछे उन्होंने जवाब दिए. यह भी कहा कि कमेटी फिर बुलाएगी तो वह आएंगे. कमेटी ने यह भी कहा कि निशिकांत ने पर्सनल नाराजगी की वजह से महुआ पर आरोप लगाए. इसका जवाब भी निशिकांत ने दिया कि इस मुद्दे पर कोर्ट से भी क्लीन चिट मिल चुकी है.

केस गंभीर, महुआ मोइत्रा आएं और अपने बचाव में जो कहना हो कहें - विनोद सोनकर

एथिक्स कमेटी के अध्यक्ष विनोद सोनकर ने कहा कि आज निशिकांत दुबे और एडवोकेट जय अनंत को हम लोगों ने बुलाया था. इनको समन किया गया था. दोनों की बात ध्यान से एथिक्स कमेटी ने सुनी है.  विषय की गंभीरता को देखते हुए कमेटी ने ये तय किया है कि महुआ मोइत्रा को 31 अक्टूबर को एथिक्स कमेटी के सामने अपना पक्ष रखने के लिए बुलाया जाए. वो (महुआ) आएं अपने बचाव में जो कहना चाहें वो कहें, अपना पक्ष भी रखें. साथ ही साथ कमेटी ने ये निर्णय लिया है, जिसमे आईटी मंत्रालय और गृह मंत्रालय को चिट्ठी भेजकर उनका विवरण भी उपलब्ध कराने को कहा गया है. अभी कमेटी ने तय किया है कि महुआ मोइत्रा को पहले बुलाया जाएगा. आगे कमेटी जो तय करेगी वो बताया जाएगा. 

बता दें कि टीएमसी की सांसद महुआ मोइत्रा पर पैसे लेकर संसद में सवाल पूछने का आरोप लगा है. इस मामले में भारतीय जनता पार्टी (BJP) तृणमूल कांग्रेस यानी TMC पर शुरू से ही हमलावर रही है. BJP ने बीते कुछ दिनों में इस मामले को लेकर TMC से जवाब देने को भी कहा है. हालांकि, TMC की तरफ से इस मामले पर कोई टिप्पणी नहीं की गई है.

TMC ने कुछ दिन पहले महुआ मोइत्रा से इस घूसकांड को लेकर सवाल जरूर पूछा था. TMC के वरिष्ठ नेता डेरेक ओ ब्रायन ने इस मामले को लेकर कहा था कि हमने महुआ से जवाब मांगा है. पार्टी इस मामले में संसद की एथिक्स कमेटी की सुनवाई के बाद ही कोई फैसला करेगा. 

बकरे की मां कब तक खैर मनाएगी : निशिंकात दुबे

गौरतलब है कि एथिक्स कमेटी की पहली बैठक से पहले बीजेपी नेता निशिकांत दुबे ने तंज कसते हुए कहा था कि बकरे की अम्मा कब तक खैर मनाएगी. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि लोकपाल की कार्रवाई शुरू. इस बैठक में बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे और वकील अनंत देहाद्रई अपेन बयान दर्ज करवा सकते हैं. 

Latest and Breaking News on NDTV

महुआ मोइत्रा पर ये बड़ा आरोप

महुआ मोइत्रा पर संसद में सवाल पूछने के लिए बिजनेसमैन दर्शन हीरानंदानी से 2 करोड़ रुपये नकद लेने का आरोप है. बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिखकर इन आरोपों की जांच की मांग की है. उनका कहना है कि इस बात की जांच की जाए कि महुआ मोइत्रा ने बिजनेसमैन से रिश्वत ली और उन्हें अपने संसद लॉगिन क्रेडेंशियल भी दिए.

महुआ का निशिकांत पर पलटवार

टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा ने केंद्रीय मंत्री के इस पत्र को "हास्यपद" बताया था. उन्होंने टि्वटर पर साथ ही लिखा कि वह इंतजार कर रही हैं कि निशिकांत दुबे के कथित तौर पर एयरपोर्ट के ATC रूप में अवैध रूप से घुसने के मामले में कब जांच होगी.

हीरानंदानी ने किया था दावा

पैसे लेकर संसद में सवाल पूछने के मामले में कारोबारी दर्शन हीरानंदानी का बीते गुरुवार को एक कबूलनामा सामने आया था, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि महुआ मोइत्रा पर लगे आरोप सच्चे हैं. इसके साथ ही कबूल किया था कि पीएम मोदी को निशाना बनाने के लिए अदाणी को टारगेट किया गया था. इसके बाद महुआ मोइत्रा ने अपना बयान जारी कर इस हलफनामे का खंडन किया था. महुआ मोइत्रा ने X (पूर्व में टि्वटर) पर बयान जारी करते हुए कहा था कि महुआ मोइत्रा ने पूछा था कि हीरानंदानी ने ये हलफ़नामा किसे दिया है और अगर हलफ़नामा दिया, तो ये नोटरी पेपर या लेटरहेड पर क्यों नहीं?

लेकिन अगले ही दिन महुआ मोइत्रा का यह दावा भी गलत निकला. अब सामने आया है कि हीरानंदानी ने यह हलफनामा दुबई में भारत के वाणिज्य दूतावास में सौंपा है. इस हलफनामे पर वाणिज्य दूतावास की मुहर भी लगी है. कारोबारी हीरानंदानी अभी दुबई में ही रहते हैं, इसलिए उन्होंने यह शपथपत्र वहां दिया है.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
तीन साल में 47 प्रतिशत भारतीयों से हो चुकी है वित्तीय धोखाधड़ी: सर्वेक्षण
कैश फॉर क्वेश्चन केस : अब महुआ मोइत्रा आएं और अपने बचाव में जो कहना हो कहें - एथिक्स कमेटी अध्यक्ष विनोद सोनकर
'पवन नहीं, आंधी है...' कौन हैं पवन कल्याण, क्या करती हैं पत्नी और बच्चे, जानिए सबकुछ
Next Article
'पवन नहीं, आंधी है...' कौन हैं पवन कल्याण, क्या करती हैं पत्नी और बच्चे, जानिए सबकुछ
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;