Janmashtami 2022: महाराष्ट्र में जन्माष्टमी की धूम, दो साल बाद 'दही हांडी' का आयोजन, जमकर जश्न मना रहे मुंबईकर

Janmashtami Celebration: कोरोना महामारी के कारण बीते दो साल से महाराष्ट्र में दही हांडी उत्सव पर प्रतिबंध था. अब इन प्रतिबंधों को हटाया गया है.

खास बातें

  • सदस्यों ने सरकार को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए धन्यवाद किया.
  • दादर में महिलाओं की टोली ने दही हांडी कार्यक्रम में मटकी तोड़ी.
  • इस साल दादर में तीन प्रकार की दही हांडी लगी हैं.
मुंबई:

महाराष्ट्र में जन्माष्टमी की धूम है. खासकर मुंबई में लोग पर्व को लेकर काफी उत्साहित हैं. विभिन्न स्थानों पर दही-हांडी के कार्यक्रम का आयोजन किया गया है, जिसमें अलग-अलग गोविंदा टोली मटकी फोड़ रही है. शहर के दादर जहां सबसे पहले दही-हांडी कार्यक्रम की शुरुआत हुई थी में महिलाओं की टोली ने मटकी तोड़ी. तेजस्विनी महिला टोली की लेडी गोविंदा ने मटकी तोड़ी, जिसके बाद लोगों ने जश्न मनाया.  

तेजस्विनी महिला टोली के सदस्य से जब एनडीटीवी ने बातचीत की तो उन्होंने बताया कि उन्हें बहुत खुशी हो रही है कि उन्होंने पहले अटेम्प्ट में ही मटकी तोड़ दी है. ये किसी परीक्षा से कम नहीं था. ये उनके लिए आसान नहीं था. तैयारी के लिए उन्हें केवल एक महीना मिला था. ऐस में वो रात में जगकर प्रैक्टिस करती थीं.  

वहीं, टोली के सदस्यों ने सरकार को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए धन्यवाद किया. गौरतलब है कि कोरोना महामारी के कारण बीते दो साल से महाराष्ट्र में दही हांडी उत्सव पर प्रतिबंध था. अब इन प्रतिबंधों को हटाया गया है. दादर में सबसे पहले गोविंदा टोलियां मटकी फोड़ती हैं. फिर शहर भर में घूमती हैं. इस साल दादर में तीन प्रकार की दही हांडी लगी हैं. एक पुरुषों की दूसरी महिलाओं की और तीसरी सेलिब्रिटी की. आज सुबह 9 बजे महिला दही हांडी से शुरुआत होगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यह भी पढ़ें -
-- "राजू श्रीवास्तव की हालत स्थिर, डॉक्टर बेहतर इलाज कर रहे हैं": पत्नी शिखा श्रीवास्तव

-- 'यह अपराध माफी योग्य नहीं' : जालोर में दलित छात्र की मौत पर बोले भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर