विज्ञापन
Story ProgressBack

'इंडिया' गठबंधन ‘एक साल, एक प्रधानमंत्री’ के फॉर्मूले पर विचार कर रहा : PM मोदी का तंज

प्रधानमंत्री मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी), अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से इस हद तक नफरत करती है कि वह अपने ‘‘सबसे पसंदीदा समुदाय’’ को नौकरियों और शिक्षा में उन्हें मिलने वाला आरक्षण देना चाहती है.

Read Time: 5 mins
'इंडिया' गठबंधन ‘एक साल, एक प्रधानमंत्री’ के फॉर्मूले पर विचार कर रहा : PM मोदी का तंज
हरदा (मप्र):

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को दावा किया कि विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया' अपने नेतृत्व के मुद्दे को सुलझाने के लिए ‘एक साल, एक प्रधानमंत्री'' के फॉर्मूले पर विचार कर रहा है. उन्होंने कहा कि दुनिया सबसे बड़े लोकतंत्र में ऐसी व्यवस्था का उपहास करेगी.

प्रधानमंत्री मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी), अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से इस हद तक नफरत करती है कि वह अपने ‘‘सबसे पसंदीदा समुदाय'' को नौकरियों और शिक्षा में उन्हें मिलने वाला आरक्षण देना चाहती है.

Advertisement

भाजपा के दिग्गज नेता ने कांग्रेस पर धर्मनिरपेक्षता के नाम पर वोट बैंक की राजनीति करने और सामाजिक न्याय के विचार की ‘‘हत्या'' करने का आरोप लगाया.

प्रधानमंत्री मोदी ने मध्य प्रदेश की बैतूल लोकसभा सीट के अंतर्गत हरदा में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए लोगों से सवाल किया कि क्या मतदाता ‘‘पांच साल में पांच प्रधानमंत्री'' फॉर्मूले के लिए तैयार हैं. उन्होंने इसे विपक्षी गठबंधन के सबसे बड़े घटक दल कांग्रेस का ‘‘खतरनाक खेल'' करार दिया.

उन्होंने धन के पुनर्वितरण की कांग्रेस की कथित योजना को ‘‘लोगों की संपत्ति छीनना'' बताया और कहा कि पार्टी के ‘शहजादे' (वायनाड सांसद राहुल गांधी के संदर्भ में) के एक सलाहकार ने अब विरासत कर लगाने का सुझाव दिया है.

प्रधानमंत्री इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा की टिप्पणी का जिक्र कर रहे थे, जिन्होंने धन के पुनर्वितरण के मुद्दे पर एक प्रश्न का उत्तर देते हुए अमेरिका में विरासत कर कानून के बारे में बात की है.

Advertisement

उन्होंने कहा कि जहां भाजपा में नेतृत्व के मुद्दे पर स्पष्टता है, वहीं ‘इंडिया' गठबंधन में इसका अभाव है.

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘लोगों को पता होना चाहिए कि ‘इंडिया' गठबंधन के नेता देश की बागडोर किसे सौंपना चाहते हैं.'' उन्होंने विपक्षी गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘मीडिया में ऐसी खबरें आई हैं कि ‘इंडिया' गठबंधन के लोगों के बीच ‘एक साल, एक प्रधानमंत्री' फॉर्मूले पर चर्चा चल रही है. इसका मतलब है कि एक साल में एक प्रधानमंत्री, दूसरे साल में दूसरा प्रधानमंत्री, तीसरे साल में तीसरा प्रधानमंत्री, चौथे साल में चौथा प्रधानमंत्री, पांचवें साल में पांचवां प्रधानमंत्री... वे प्रधानमंत्री की कुर्सी नीलाम करने में व्यस्त हैं.''

मोदी ने लोगों को इन नेताओं से सतर्क रहने की सलाह दी और कहा कि ये नेता ‘‘मुंगेरीलाल के सपने'' जैसे दिवास्वप्न देख रहे हैं. प्रधानमंत्री ने उपस्थित लोगों से पूछा, 'जब पांच साल में पांच प्रधानमंत्री होंगे तो देश का क्या होगा? क्या यह व्यवस्था आपके सपनों को पूरा करेगी और आपके बच्चों के भविष्य की रक्षा करेगी?''

Advertisement

ऐसी व्यवस्था पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा, ‘‘एक नेता प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठेगा और चार अन्य कुर्सी का एक-एक पैर पकड़कर बैठेंगे और एक साल खत्म होने का इंतजार करेंगे.''

मोदी ने कहा, ‘‘मैं आपको जागरूक करना चाहता हूं. यह बहुत डरावना खेल है जो देश को बर्बाद कर देगा, यह सपना सुंदर नहीं है, यह एक ऐसा खेल है जो आपके सपनों को चकनाचूर कर देगा. अपने वोट की ताकत को समझें.''

Advertisement

मोदी ने कहा कि दादा-दादी कठिनाइयों का जीवन जीते हुए अपनी अगली पीढ़ियों के लिए संपत्ति छोड़ने की कोशिश करते हैं, लेकिन कांग्रेस इन संपत्तियों को छीनना चाहती है.

उन्होंने चेताया, ‘‘कड़ी मेहनत और कठिनाइयां सहकर आपने जो धन इकट्ठा किया है, वह कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार बनने पर आपसे लूट लिया जाएगा.''

Advertisement

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने वोट-बैंक को खुश करने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है. उन्होंने मुख्य विपक्षी दल पर हमला करने के लिए 'संपत्ति पुनर्वितरण और विरासत कर' मुद्दों के बारे में बात की.

मोदी ने कहा, ‘‘अगर किसी के पास एक से अधिक कार, मोटरसाइकिल या घर है, तो कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार आने पर इसे जब्त कर लिया जाएगा.''

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस के घोषणापत्र में नौकरियों और शिक्षा में धर्म आधारित आरक्षण की बात होने का दावा किया. उन्होंने कहा, ‘‘तेलंगाना के कांग्रेसी मुख्यमंत्री ने अभी कहा है कि वह मुसलमानों के लिए आरक्षण सुनिश्चित करेंगे.''

प्रधानमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि जब केंद्र में कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार बनी तो उन्होंने सबसे पहले आंध्र प्रदेश में धर्म आधारित कोटा लागू किया. उन्होंने कहा, ‘‘तब कांग्रेस अपनी योजना में पूरी तरह सफल नहीं हुई थी. लेकिन कांग्रेस अभी भी वह खेल खेलना चाहती है.''

मोदी ने दावा किया कि कर्नाटक में ओबीसी के लिए आरक्षण को कमजोर करने के लिए दक्षिणी राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने मुसलमानों को उस श्रेणी में शामिल किया है. उन्होंने चेताया, ‘‘कांग्रेस की यह कार्रवाई पूरे देश के ओबीसी समुदाय के लिए खतरे की घंटी है.''

मोदी ने बताया कि संविधान निर्माताओं ने स्पष्ट रूप से तय किया था कि धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं दिया जा सकता. उन्होंने कहा, ‘‘यह हमारे संविधान की मूल भावना थी, लेकिन कांग्रेस की हरकतें संविधान की मूल भावना के खिलाफ हैं.''

उन्होंने कांग्रेस पर बी.आर. आंबेडकर के बनाए संविधान को मिटाने और एससी,एसटी,ओबीसी से आरक्षण छीनने की लगातार कोशिश करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस एससी,एसटी,ओबीसी से आरक्षण छीनकर अपने विशेष वोट बैंक को देना चाहती है.''

इस अवसर पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और विदिशा से भाजपा उम्मीदवार शिवराज सिंह चौहान भी मौजूद थे. भाजपा ने बैतूल से दुर्गादास उइके को मैदान में उतारा है, जहां विदिशा और सात अन्य लोकसभा सीटों के साथ सात मई को तीसरे चरण में मतदान होगा.
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
बांग्लादेश के सांसद के शव के टुकड़े करने के लिए कसाई ने लिए थे 5 हजार, मामले में हुए कई चौकाने वाला खुलासा
'इंडिया' गठबंधन ‘एक साल, एक प्रधानमंत्री’ के फॉर्मूले पर विचार कर रहा : PM मोदी का तंज
मुंबई इन्फ्रास्ट्रक्चर Boom : रहने के लिए कहीं अधिक अच्छा शहर बन रही देश की आर्थिक राजधानी
Next Article
मुंबई इन्फ्रास्ट्रक्चर Boom : रहने के लिए कहीं अधिक अच्छा शहर बन रही देश की आर्थिक राजधानी
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;